जबलपुर में लापरवाही की हदें पार, बाजार में पैर रखने की जगह नहीं, कई जगह लगा जाम

|

Published: 28 Jul 2020, 11:58 AM IST

जबलपुर में लापरवाही की हदें पार, बाजार में पैर रखने की जगह नहीं, कई जगह लगा जाम

Jabalpur public,Jabalpur Public Service Center,cross the limit,corona carriers,corona carrier,jabalpur market news,jabalpur ka bazar,

जबलपुर/ कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए दो दिन के लॉकडाउन के बाद सोमवार को बाजार खुल गया। इस बीच सुबह से लेकर शाम तक दुकानों में खरीदी करने वालों का तांता लगा रहा। सामान्य दिनों से ज्यादा लोग चीजों को खरीदने के लिए बाजार में निकले। ईद और रक्षाबंधन का त्योहार है। इसलिए भी बाजारों में रौनक रही। सभी प्रमुख बाजारों में स्थिति लगभग एक समान थी। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग भी टूटती नजर आई। इससे संक्रमण का खतरा भी बरकरार रहा। जहां भी राखी और रूमाल का बाजार लगा, वहां महिलाओं की भीड़ ज्यादा रही। इसी प्रकार रेडीमेड वस्त्रों की दुकानों में भी काफी संख्या में लोग पहुंचे। दुकानों के सामने सैकड़ों की तादाद में वाहन खड़े दिखे।

 

राखी बाजार में उमड़ी भीड़
अभी सबसे ज्यादा खरीदी राखी और रूमाल की है। बड़ा फुहारा, मिलौनीगंज, लार्डगंज, गंजीपुरा, रांझी, अधारताल, सदर, गोरखपुर, कांचघर क्षेत्र में काफी संख्या में कारोबारियों ने राखी व रूमाल की दुकानें सजाई हैं। इन्हीं जगहों पर भीड़ भी ज्यादा रही। वहीं तमाम थोक मंडी और व्यापारिक क्षेत्रों में भारी भीड़ रही। न केवल शहर बल्कि आसपास के ग्रामीण इलाकों से भी लोग खरीदी के लिए सोमवार को बाजार पहुंचे। ऐसे में व्यापार में भी इजाफा हुआ।

शाम को बंद हुई दुकानें

इस बीच रात्रिकालीन कफ्र्यू को लेकर शाम 7.30 बजे से दुकानें बंद होने का क्रम शुरू हो गया। इसलिए ज्यादा संख्या में भीड़ शाम 7 बजे तक ही रही। फिर सभी अपने घरों की तरफ गए। ऐसें में रोजाना की तरह कुछ जगहों पर जाम की स्थिति भी निर्मित हुई।
शराब की दुकानों पर टूटे लोग : सोमवार सुबह पांच बजे से लॉकडाउन खुल गया ऐसे में शराब दुकानों में सुबह से भारी भीड़ लगी रही। पूरे दिन देशी एवं विदेशी शराब की दुकानों में जमकर बिक्री हुई।