indian railway- एक एसएमएस पर पैसेंजर की समस्या होगी हल, दौड़े आएंगे अधिकारी

|

Published: 18 Sep 2017, 05:52 PM IST

पमरे ने यात्रियों के लिये शुरू की कोच मित्र सेवा, ट्रेन कोच की साफ-सफाई पर विशेष जोर

Indian Railway - Passenger problem will be solved on an SMS, Indian Railway Ministry,Indian railway stations,Indian Railway Catering and Tourism Corporation,Indian Railway,Indian Railway PSU,Indian Railway Catering and Tourism Corporation (IRCTC),Indian railway samachar,indian railway budget,indian railway news train,Indian railway news,vacancy in Indian Railway,Recruitment in Indian Railway,by Indian Railway,Indian Railway latest news,Indian Railway hindi news,Indian Railway train details,India

जबलपुर। रेल यात्रियों को ट्रेन में होने वाली किसी भी प्रकार की परेशानी और समस्या का निदान एक एसएमएस पर होगा। ट्रेनों में साफ-सफाई सहित यात्री सुविधाओं को दुरुस्त करने के लिए पश्चिम मध्य रेल ने रेलवे बोर्ड की तर्ज पर कोच मित्र सेवा शुरू की है। इसके तहत पश्चिम मध्य रेल के किसी भी स्टेशन से कोई ट्रेन गुजर रही है और यात्रियों को किसी भी प्रकार की असुविधा या फिर कोई शिकायत करनी है, तो उन्हें केवल एक एसएमएस करना होगा। एसएमएस के साथ ही अगले स्टेशन पर उनकी समस्या के निराकरण हो जाएगा।

indian railway- मिडिल और लोअर बर्थ की झंझट खत्म

इन सेवाओं पर नजर
पमरे ने अपने यात्रियों की सुविधा को देखते हुए चलती ट्रेनों में कोच मित्र सेवा को अमल में लिया गया है। इसके अंतर्गत एसएमएस द्वारा सूचना देने पर साफ-सफाई की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। यात्रियों को सफर के दौरान ट्रेन के किसी भी कोच में साफ-सफाई, लिनेन, पानी, लाइट, एसी, डिसइन्फेक्शन या किसी भी प्रकार की आवश्यकता महसूस होती है या इन सेवाओं में कमी लगती है तो वे एक एसएमएस करके चलती गाड़ी में ही समस्या का निदान पा सकते हंै।
ये है शिकायती नंबर
यात्री अपनी किसी भी प्रकार की सेवा के लिए ऊपर दिए गए प्रारूप में मोबाइल फोन पर एसएमएस कर फोन नंबर 9200003232 या 58888 पर एसएमएस भेज सकते हैं। रेलवे की यह सेवा यात्रियों के लिये प्रात: 6 से रात्रि 10 बजे तक उपलब्ध रहेगी। इसके अतिरिक्त यात्री चाहे तो इस वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडॉटक्लीनमायकोचडॉटकॉम या क्लीनमायकोच मोबाइल एप मोबाइल एप्प द्वारा भी अपनी शिकायत को दर्ज करा सकते हैं।
ओटीपी से कन्फर्म होगी शिकायत
यात्री द्वारा किसी भी प्रकार की शिकायत के लिए एसएमएस करते ही उसके मोबाइल फोन पर एक ओटीपी नंबर आएगा। यात्री को ये ओटीपी नंबर सेवा प्राप्त होने के बाद सम्बंधित रेलकर्मी को बताना होता है। जब ओटीपी नंबर रेलकर्मी प्राप्त करके सॉफ्टवेयर में अपलोड नहीं करेगा यह माना जाता है कि यात्री को सेवा प्राप्त नहीं हुई। पश्चिम मध्य रेल द्वारा यात्रियों के लिये कोच मित्र की सुविधा प्रारंभ की गयी है, जिसे बाद में पूरे भारतीय रेल पर लागू किया गया है।पी-4
कोच मित्र सेवा से करें एसएमएस
कोच में साफ-सफाई - क्लीन स्पेस पीएनआर सी
लिनेन की शिकायत - क्लीन स्पेस पीएनआर बी
कोच में पानी उपलब्ध कराने - क्लीन स्पेस पीएनआर डब्ल्यू
कोच में डिसइन्फेक्शन - क्लीन स्पेस पीएनआर पी
कोच में लाइट एवं एसी सुधार - क्लीन स्पेस पीएनआर ई
कोच में छोटीे-मोटी मरम्मत - क्लीन स्पेस पीएनआर आर