जबलपुर में अनलॉक का खतरनाक चेहरा: कोरोना की चेन और मजबूत हुई, लगातार मिल रहे नए हॉटस्पॉट

|

Updated: 11 Jun 2020, 10:49 AM IST

जबलपुर में अनलॉक का खतरनाक चेहरा: कोरोना की चेन और मजबूत हुई, लगातार मिल रहे नए हॉटस्पॉट

 

corona bomb,Coronavirus, Coronavirus Tips,coronavirus bomb,coronavirus,Coronavirus In Hindi,china Coronavirus,Coronavirus causes,Coronavirus treatment,Coronavirus in india,Robot to treat Coronavirus,jabalpur corona cases,Corona cases are increased,corona cases in jabalpur,

जबलपुर। शहर में कोरोना संक्रमण का दायरा लगातार बढ़ रहा है। औसतन हर एक पखवाड़े में नया कोरोना हॉटस्पॉट बन रहा है। कोरोना संवदेनशील एक क्षेत्र में जब तक काबू पाया जाता है, तब तक उसके आसपास के दूसरे इलाके में संक्रमण पहुंच जाता है। तमाम प्रयास के बावजूद घनी आबादी वाले क्षेत्रों में संक्रमण बढ़ रहा है। शहर के बीच के कुछ इलाकों के बाद अब दूसरे क्षेत्रों से सटी घनी बस्तियों में कोरोना के नए केस मिल रहे हैं। कोरोना संक्रमित सीआरपीएफ कांस्टेबलों की संख्या बढऩे के साथ छोटी ओमती और सिंधी कैम्प कोरोना के नए हॉटस्पॉट बनने की कगार पर हैं। आरपीएफ बैरक और बाकी दो क्षेत्रों के कनेक्शन से एक महीने में 36 संक्रमित मिले हैं।

मानकों की अनदेखी : अब छोटी ओमती, सिंधी कैम्प और आपीएसएफ में मिल रहे पॉजिटिव केस
नहीं टूटी कोरोना की चेन, एक हॉटस्पॉट खत्म होने तक दूसरी जगह पहुंचा संक्रमण

 

सोशल डिस्टेसिंग में लापरवाही
अब तक हॉट स्पॉट बने क्षेत्रों सहित उससे लगे जिन इलाकों में संक्रमित मिले है, वहां सोशल डिस्टेसिंग में लापरवाही सामने आई है। सभी इलाके घनी आबादी और बस्ती क्षेत्र हैं। यहां की गलियां सकरी होने से गश्त और निगरानी कठिन है। लोगों ने शुरुआत में निर्धारित दूरी नहीं रखी। सुरक्षा उपायों को भी गम्भीरता से नहीं लिया। इससे कंटेनमेंट एरिया से लगे क्षेत्रों में संक्रमण का दायरा बढ़ रहा है।

अब इन इलाकों में कोरोना की दस्तक

आरपीएफ : नौ कांस्टेबल पॉजिटिव
रेलवे स्टेशन के पास आरपीएफ की बैरक में कटनी से लौटा 32 वर्षीय कांस्टेबल 24 मई को संक्रमित मिला था। उसके बाद आठ और कांस्टेबल कोरोना पॉजिटिव मिल चुके है। इनके सम्पर्क में आया एक रेलकर्मी और एक ठेका कर्मी भी भी संक्रमित मिला है।
छोटी ओमती : 15 पॉजिटिव केस
छोटी ओमती निवासी और गुरंदी में कबाड़ दुकान में काम करने वाला 45 वर्षीय व्यक्ति 30 मई को संक्रमित मिला था। उसके सम्पर्क में आने से गुरंदी में कारोबार करने वाला 62 वर्षीय व्यक्ति संक्रमित मिला। क्षेत्र में अब तक 15 संक्रमित मिल चुके हैं।
सिंधी कैम्प : 2 मौत, 12 पॉजिटिव
सिंधी कैम्प में सात मई को संक्रमण का पहला केस आया। 28 वर्षीय गर्भवती की कोरोना से मौत हुई। 12 मई को 65 वर्षीय वृद्ध ने संक्रमण से दम तोड़ा। कैंप के अंतर्गत बड़ी मदार टेकरी के बाद अब भवानी चौक में नए मामले मिले हैं।