VISTARA ने 1200 सीनियर कर्मचारियों को दी 3 दिनों की छुट्टी, नहीं मिलेगी कोई सैलेरी

|

Updated: 15 Apr 2020, 05:42 PM IST

विस्तारा ( VISTARA AIRLINES ) ने अपने 1200 सीनियर कर्मचारियों को 3 दिन के लिए अवैतनिक अवकाश यानि लीव विदाउट पे पर भेज दिया है।

नई दिल्ली: एयरलाइंस कंपनियों का हाल बुरा है ये बात अब पुरानी सी लगने लग गई है। लेकिन कंपनियां अपने पुराने नुकसान को खत्म करने का और खुद को चलाते रहने के लिए हर दिन कोई नया तरीका ढूंढती है। टिकट कैंसिल के बारे में तो हम आपको बता चुके हैं। अब खबर मिल रही है विस्तारा ( VISTARA AIRLINES ) ने अपने 1200 सीनियर कर्मचारियों को 3 दिन के लिए अवैतनिक अवकाश यानि लीव विदाउट पे पर भेज दिया है।

कंपनी ने 15-30 अप्रैल के बीच कर्मचारियों को ऐसा करने के लिए कहा है । कंपनी कोविड-19 या कोरोनावायरस से हो रहे नुकसान की वजह से ये कदम उठाया है और इससे पहले 27 मार्च को भी कंपनी ने अपने कर्मचारियों को ऐसा ही आदेश दिया था और तब भी लगभग इतने ही लोगों को छुट्टी पर भेजा गया था। विमान कंपनी के चालक दल के सदस्यों और ग्राउंड हैंडलिंग सेवा जैसे विभाग के बाकी 2800 कर्मचारी प्रभावित नहीं होंगे।

कर्मचारियों को भेजे गए ईमेल में कहा गया है कि, ''सरकार द्वारा लागू लॉकडाउन बढ़ाने के मद्देनजर हमने तीन मई 2020 तक अपने सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के परिचालन को स्थगित कर दिया है । इससे हमारे सामने नकदी प्रवाह पर भी महत्वपूर्ण असर पड़ेगा क्योंकि इस अवधि में कोई आय नहीं होगी।

314 अरब डॉलर नुकसान की आशंका-

अंतरार्ष्ट्रीय हवाई परिवहन संघ (IATA) ने कोरोनावायरस ( COVID-19 ) के कारण इस साल हवाई यात्री परिवहन क्षेत्र को 314 अरब डॉलर का राजस्व नुकसान होने की आशंका व्यक्त की है। आयटा ने इससे पहले 24 मार्च को जारी अनुमान में 252 अरब डॉलर के नुकसान की आशंका जताई थी। अब उस अनुमान में संशोधन करते हुए संघ ने हवाई यात्राओं पर तीन महीने के बैन होने की सूरत में यात्रियों की संख्या में 48 फीसदी गिरावट होने की बात कही है। इससे 314 अरब डॉलर यानी 55 प्रतिशत के राजस्व का नुकसान होगा।