Good News ! महामारी के बीच 15000 फ्रैशर्स को नौकरी देगी HCL

|

Published: 23 Jul 2020, 11:34 AM IST

  • कैंपस रिक्रूटमेंट प्रोसेस के माध्यम से 15000 नए लोगों को जॉब ( HCL will hire 15000 freshers ) देगी
  • कोरोना की वजह से स्लो है प्रोसेस
  • TCS और Wipro ने भी किया है नौकरियां देने का ऐलान

नई दिल्ली: HCL Tech ने इसी हफ्ते अपनी जून तिमाही की रिपोर्ट पेश की है और महामारी क बावजूद कंपनी प्रॉफिट कमाने में कामयाब रही है। कंपनी ने तिमाही रिपोर्ट पेश करने के साथ ही कंपनी के मैनेजमेंट में परिवर्तन का भी ऐलान कर दिया है । अब कंपनी की बागडोर शिव नाडर की बेटी रोशनी ( Roshni Nadar Malhotra will be new chairman ) संभालेगी।

रोजमर्रा की चीजों के अलावा UPI से IPO में भी कर सकते हैं निवेश, जानें क्या है पूरा प्रोसेस 

इतने बड़े ऐलान के बाद कंपनी ने अब एक और ऐलान किया है कि इस साल कंपनी 15000 फ्रेशर्स को जॉब देगी यानि कंपनी कैंपस रिक्रूटमेंट प्रोसेस के माध्यम से 15000 नए लोगों को जॉब ( HCL will hire 15000 freshers ) देगी । कंपनी ने अपनी भर्ती और ऑनबोर्डिंग प्रक्रिया को वर्चुअल बना दिया है। ये खबर इसलिए बड़ी हो जाती है क्योंकि फिलहाल आर्थिक हालात ठीक नहीं चल रहे हैं और कंपनी ने पिछले साल भी 9000 लोगों को भर्ती किया था।

कंपनी के एचआर हेड का कहना है कि कोरोना की वजह से देशभर के कॉलेज कैम्पस बंद हैं, जिसके चलते हायरिंग प्रोसेस थोड़ा धीमा है। अप्रैल से जून की तिमाही में HCL Technologies ने करीब 1,000 फ्रेशर्स की भर्ती की है। यहां ध्यान देने वाली बात है कि कि टेक दिग्गज टीसीएस ( TCS ) और विप्रो ( Wipro ) भी इस साल फ्रेशर्स को नौकरी देने की बात कह चुके हैं।

US-India Trade Deal पर जल्द लग सकती है मुहर, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने दिये संकेत

TCS ने 40 हजार छात्रों का कैंपस सिलेक्शन ( campus selection ) करने का ऐलान किया था । हालांकि जून तिमाही में उसके नतीजे में गिरावट दर्ज की गई है। विप्रो ( Wipro ) ने जनवरी में कहा था कि वह इस साल 12 हजार छात्रों का कैंपस करेगी।

कोविड ( covid-19 ) और लॉकडाउन ( corona lockdown ) की वजह से कंपनी के 96 प्रतिशत कर्मचारी घरों से काम ( work from home ) कर रहे हैं। जून तिमाही में कंपनी की प्रोडक्टिविटी में अच्छी रिकवरी दिखी है।