Latest News in Hindi

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया वादा, तुम्हारे बिना नहीं बनेगी शहर कार्यकारिणी

By Uttam Rathore

Sep, 12 2018 11:15:33 (IST)

शहर कांग्रेस में बैठे मौजूदा नेताओं की अध्यक्ष प्रमोद टंडन समर्थकों ने की शिकायत

इंदौर.
सांसद और प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया मंगलवार को इंदौर आए थे। विधानसभा चुनाव के मद्देनजर देपालपुर में निकली परिवर्तन यात्रा के बाद हुई सभा को उन्होंने संबोधित किया। इसमें इंदौर शहर और ग्रामीण के कांग्रेस नेता सहित समर्थक शामिल हुए, जिन्होंने सिंधिया के सामने शक्ति-प्रदर्शन किया।

सिंधिया ने सभा के दौरान केंद्र और राज्य में सत्तारुढ़ भाजपा सरकार को जमकर कोसा, वहीं सभा में मौजूद जनता से कांग्रेस का साथ देने का आग्रह किया। बड़े गांव में सभा को संबोधित करने के बाद सिंधिया रात ८ बजे इंदौर पहुंचे और सीधे अपने समर्थक व शहर कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद टंडन से मिलने उनके घर पहुंचे, क्योंकि गंभीर बीमारी के चलते टंडन का पिछले दिनों मुंबई में ऑपरेशन हुआ है और वे घर पर आराम कर रहे हैं। यहां पर टंडन समर्थकों ने सिंधिया के सामने शहर कांग्रेस कमेटी में बैठे नेताओं के खिलाफ शिकायतों का पिटारा खोल दिया। कहना था कि टंडन के बीमार होने पर शहर कांग्रेस संभालने वाले नेताओं ने दूध में से मक्खी की तरह निकाल कर फेंक दिया है। अध्यक्ष को पूछे बगैर सारे निर्णय स्वयं लेने लगे और अपने हिसाब से शहर कार्यकारिणी घोषित कराने में लगे हैं।

इस पर सिंधिया ने टंडन सहित समर्थकों से वादा किया कि उनके बिना कार्यकारिणी घोषित नहीं होगी। इसके साथ ही उन्होंने टंडन से बंद कमरे में कॉफी देर तक बात की। सिंधिया का वादा करना कि टंडन के बिना कार्यकारिणी नहीं बनेगी, इसको लेकर कांग्रेसियों में कानाफुसी होना शुरू हो गई कि अगर ऐसा हुआ, तो फिर पार्टी लड़ ली चुनाव और जीत गई, क्योंकि पहले ही लंबे समय से कार्यकारिणी अटकी पड़ी है और अब विधानसभा चुनाव के चलते जल्द घोषणा नहीं हुई, तो कैसे चुनावी काम होगा और कैसे बूथ संभाले जाएंगे।

आज बुरहानपुर में लेंगे सभा
टंडन से मुलाकात करने के बाद सिंधिया एक-दो निजी कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद रात को ही सीधे ओंकारेश्वर के लिए रवाना हो गए। यहां पहुंचने के बाद उन्होंने रात्रि विश्राम किया और आज सुबह दर्शन किए। इसके बाद सीधे बुरहानपुर के लिए रवना हो गए। यहां पर सभा लेने के बाद वे रात को फिर इंदौर आएंगे और फिर दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। सिंधिया के साथ इंदौरी समर्थक भी ओंकारेश्वर पहुंचे हैं।