59 चीनी ऐप बैन होने पर भी क्यों बच गए PUBG और Zoom App, जानें खास वजह

|

Published: 30 Jun 2020, 05:09 PM IST

  • Chinese Apps Banned : मशहूर गेमिंग ऐप PUBG को चीनी कंपनी कंपनी टेंसेंट गेम्स ने लांच किया था
  • इस गेमिंग ऐप को जापानी फिल्म बैटल रॉयल से प्रेरित होकर बनाया गया है

नई दिल्ली। चीन की बढ़ती हद पर लगाम लगाने के लिए भारत सरकार ने 59 चीनी ऐप्स पर बैन (Chinese Apps Ban) लगा दिए हैं। इससे चारो-तरफ हंगामा मच गया है। मगर हैरानी की बात यह है कि इन सबके बीच दो Apps बच गए हैं। इनमें PUBG और Zoom App शामिल हैं। गेमिंग इंडस्ट्री में पबजी के जरिए तहलका मचाने वाली चीनी कंपनी के बावजूद इसे क्यों नहीं हटाया गया इसे लेकर सभी के मन में कश्मकश है।

पबजी PUBG यानी प्लेयर अननोन बैटलग्राउंड्स भारत के लोकप्रिय गेम में से एक है। इस गेम की पॉपुलैरिटी इतनी ज्यादा है कि इसे भारत में करोड़ों लोगों ने डाउनलोड किया है। साथ ही बच्चे से लेकर बड़े तक हर कोई इसका दीवाना है। चीन की सबसे बड़ी गेमिंग कंपनी टेंसेंट गेम्स ने इसे घरेलू बाजार में पेश किया था। हालांकि कुछ समय के बाद चीन में इस गेम पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद कंपनी ने इस गेम को गेम ऑफ पीस के नए नाम के साथ दोबारा लॉन्च किया था। इस पर दूसरे कंपनी का भी मालिकाना हिस्सा है। इस गेम को दक्षिण कोरिया की टेक कंपनी ब्लूहोल ने वर्ष 2000 में आई जापानी फिल्म बैटल रॉयल से प्रेरित होकर बनाया है। ऐसे में पबजी पूरी तरह से चीनी कंपनी नहीं है। इसी के चलते इस पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है।

लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान लोग एक-दूसरे से कनेक्ट होने और आनलाइन क्लासेज के लिए जूम ऐप का प्रयोग कर रहे हैं। ज्यादातर लोगों का मानना है कि ये एक चीनी ऐप है। क्योंकि इसे संस्थापक Eric Yuan चीन के रहने वाले हैं। मगर आपको बता दें कि एरिक का महज जन्म चीन में हुआ था, लेकिन वो अमेरिका के नागरिक हैं। इसलिए इस ऐप को अमेरिकन कंपनी ने लांच किया था। इस कारण जूम ऐप पर भी प्रतिबंध नहीं लगाया गया।