दुर्गा नवमी : अपनी राशि के अनुसार करें ये उपाय, पूरे साल बनी रहेगी माता रानी की कृपा

|

Published: 31 Mar 2020, 01:14 PM IST

दुर्गा नवमी पर्व 2 अप्रैल दिन गुरुवार को हैं

चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को अपनी सभी मनोकामनाओं की पूर्ति के सभी राशि के जातक अपनी राशि के अनुसार, ऐसे करें माँ दुर्गा भवानी का पूजन। इस साल 2020 में दुर्गा नवमी तिथि 2 अप्रैल दिन गुरुवार को हैं।

1- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को मेष राशि के जातक जीवन प्रबंधन में दृढ़ता, स्थिरता एवं अपने आप को शक्तिमान बनाने के लिए माता दुर्गा से मंगलकारी जीवन के लिए माता को सोलह श्रंगार की सामग्री भेंट करें।

2- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को वृषभ राशि के जातक माता के महागौरी स्वरूप के पूजन के साथ ललिता सहस्र नाम का पाठ करें। इस उपाय से अविवाहित कन्याओं को उत्तम वर की प्राप्ति होती है।

घर में ही कर लें यह काम हनुमान जी बना देंगे मालामाल

3- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को मिथुन राशि के जातक देवी यंत्र स्थापित कर विधिवत पूजन के बाद तारा कवच का पाठ करें। ऐसा करने से एक साथ अनेक कामनाएं पूरी होने लगेगी।

4- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को कर्क राशि के जातक माता दुर्गा भवानी को षोडशोपचार पूजन करने के बाद श्री लक्ष्मी सहस्रनाम का पाठ करने से माता भगवती धन-धान्य का वरदान प्रदान करती है।

5- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को सिंह राशि के जातक ब्रह्मांड की जन्मदात्री माँ का पूजन कर उनके चरणों में अपनी सभी बुराईयों को अर्पित करें। इसके बाद माता को गाय के दूध से बनी खीर का भोग लगावें।

6- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को कन्या राशि के जातक माँ दुर्गा के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की पूजा करके श्री लक्ष्मी मंत्रों का जप 108 बार करें। ऐसा करने से जीवन की सभी बाधाएं दूर हो जाएगी।

7- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को तुला राशि के जातक माता के पूजन के बाद श्री काली चालीसा एवं सप्तशती के प्रथम चरित्र का पाठ करें। उस उपाय से अविवाहित लड़के एवं लड़कियों को मनचाहे जीवसाथी की प्राप्ति होती है।

दुर्गा अष्टमी तिथि को दुर्गा सप्तशती के केवल ये 11 मंत्र 7 दिन के अदर कर देंगे हर इच्छा पूरी

8- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को वृश्चिक राशि के जातक माँ दुर्गा का विधिवत पूजन के बाद श्रीदुर्गा सप्तशती का पाठ करें। साथ ही 9 छोटी कन्याओं का पूजन कर उन्हें भोजन करावें।

9- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को धनु राशि के जातक समस्त भय एवं विघ्नों से मुक्ति के लिए माता के महाकाली के रूप की पूजा कर 11 नींबु से बनी माला अपने हाथों पहनावें।

10- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को मकर राशि के जातक कालरात्रि माता का पूजन कर, नर्वाण मंत्र का जप करें। ऐसा करने से जीवन में आने वाले कष्टों से रक्षा होगी।

11- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को कुंभ राशि माँ दुर्गा को लाल फूल, लाल चुनरी व श्रंगार का सामान अर्पित कर, देवी कवच का पाठ करें। ऐसा करने से समस्त भौतिक व आध्यात्मिक कामनाएं पूरी होगी।

सभी गंभीर रोगों से मिलेगी मुक्ति कर लें तांत्रिक उपाय

12- चैत्र नवरात्रि की नवमी तिथि को मीन राशि के जातक दुर्गा पूजन के बाद, हरिद्रा (हल्दी) की माला से माँ बगलामुखी के बीज मंत्र का 108 जप करें। 2 से 7 साथ साल तक कन्याओं को खीर पुड़ी का भोजन करावें। माता की कृपा से कभी कामनाएं पूरी होगी।

******************