Aaj Ka Ank Jyotish: वाणी पर संयम रखें, वरना बने बनाए काम बिगड़ सकते हैं

|

Published: 17 May 2020, 06:30 AM IST

Aaj Ka Ank Jyotish: अंकज्योतिष के अनुसार जानें कैसा रहेगा आपका आज का दिन

Aaj Ka Ank Jyotish: वाणी पर संयम रखें, वरना बने बनाए काम बिगड़ सकते हैं

ज्योतिषाचार्य गुलशन अग्रवाल

अंक 01- विद्यार्थियों को करियर में निराशाजनक परिणाम से उभरने के अवसर मिलेंगे। जनहित के कार्यों में शतप्रतिशत परिणाम देने के चक्कर में अपनों से दूर होना पड़ सकता है।
अनुकूलता के लिए- पीपल के वृक्ष की 11 परिक्रमा लगाकर कार्य शुरू करें।

अंक 02- आगे बढ़ने के लिए अपनी सोच में आक्रामकता लेकर आएं किंतु उसे प्रर्दशीत बिल्कुल भी न करें। खराब स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए योग का सहारा लेना पड़ सकता है।
अनुकूलता के लिए- मौनव्रत का सख्ती से पालन करें।

अंक 03- पत्नी का सहयोग आगे बढ़ने में बेहद सहायक सिद्ध होगा। वाचाल प्रवत्ति पर काबु रखना जरूरी होगा। ईश्वरीय शक्ति का अहसास होगा व शीघ्र फल प्राप्त होने लगेंगे।
अनुकूलता के लिए- गाय को गुड़ व रोटी खिलाएं।

अंक 04- कार्यस्थल पर कामकाज के पुराने तरीकों को कम कर आधुनिक तौर तरीकों को कुछ समय के लिए अपनाना होगा। वाहनों पर अनियंत्रण जेब व शरीर दोनों पर भारी पडे़गा।
अनुकूलता के लिए- कुलदेवी का पूजन कर कार्य शुरू करें।

अंक 05- वाणी संयम न रखने से स्वयं का अच्छा खासा नुकसान करा बैठेंगे। कारोबार में चल रही उठापटक के चलते लाभांश की स्थिति को लंबे समय के लिए बरकरार नहीं रख पाएंगे।
अनुकूलता के लिए- किसी धार्मिक संस्थान को पुस्तक का दान करें।

अंक 06- सहपाठियों के संग किसी मनोरंजन स्थल पर जाने का मौका मिल सकता है। किसी ऐसे अप्रत्याशित प्रसंग से रूबरू होना पड़ सकता है, जिसे बरसों पहले आप छोड़ चुके थे।
अनुकूलता के लिए- नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जप करें।

अंक 07- पहले से चल रही शारीरिक व्याधियों में तेजी से आए सुधार के चलते जीवन सामान्य होने लगेगा। निजी संबंधों में मतभेद दूर होने की शुरूआत आज से हो जाएगी।
अनुकूलता के लिए- भोलेनाथ को 11 बिल्वपत्र अर्पित करें।

अंक 08- आज की शुरूआत अनावश्यक खर्चों के साथ होगी, किंतु समय रहते उस पर काबु पा लेंगे। नौकरी से उबकर स्वतंत्र व्यापार की ओर बढ़े कदम आशाजनक परिणाम देंगे।
अनुकूलता के लिए- चिटियों को पंजीरी खाने के लिए दें।

अंक 09- धार्मिक कार्यों में अंधविश्वास के बजाए व्यवहारिकता को ज्यादा तवज्जो दें। किसी गलत जगह फंसे लोगों को निकालने के लिए अत्यधिक आतुरता से नुकसान हो सकता है।
अनुकूलता के लिए- देवी मंदिर में कनेर के पुष्प अर्पित करें।