Latest News in Hindi

सांप काटने से मरे लोगों को जिंदा करने का दावा करता है ये तांत्रिक, 14 दिन बाद खुदवाकर निकाली लाश अौर फिर...

By Ruchi Sharma

Sep, 12 2018 12:38:12 (IST)

सांप काटने से मरे लोगों को जिंदा करने का दावा करता है ये तांत्रिक, 14 दिन बाद खुदवाकर निकाली लाश अौर फिर...

सांप काटने से मरे लोगों को जिंदा करने का दावा करता है ये तांत्रिक, 14 दिन बाद खुदवाकर निकाली लाश अौर फिर...

औरैया. जितनी ही लोगों में आस्था है उतना ही लोगों में अंधविश्वास है। दोनों में कोई विशेष अंतर नहीं है। इंसान दोनों के लिए कुछ भी करने को तैयार हो जाता है। ऐसा ही एक मामला जनपद के फफूंद थाना क्षेत्र के ग्राम महारजपुर बहादूर सिंह में परिजनों ने तांत्रिक के कहने पर लगभग 14 दिन पूर्व खेतों में दफन किये गये 22 वर्षिय युवक के शव को निकालने की कोशिश की गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने मानवीय दृष्टि से खोदे गये गड्ढे को जेसीबी से बन्द करवाया।

चमत्कार देखने के लिये लोगों की वहां भीड़ लग गयी थी। जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के ग्राम महाराजपुर बहादुर सिंह निवासी राम किशोर राजपूत का पुत्र हरजीत राजपूत (22 वर्ष) विगत 27 अगस्त को खाना खा कर के घर की छत पर लेटा था। रात्रि में किसी जहरीले कीड़े ने उसके काट लिया। सुबह जब परिजनों ने देखा तो युवक को अस्पताल ले गये। जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था । परिजनों ने उसके शव को अपने खेतों में दफना दिया था ।

मृतक के बड़े भाई सुरजीत बताया कि किसी ने परिजनों को बताया कि याकूबपुर के पास ग्राम हिम्मतपुर में एक तांत्रिक है जो सांप के काटने वालो को जीवित कर देता है। जिस पर सभी परिजन जब ग्राम हिम्मतपुर में तांत्रिक के पास गये तो तांत्रिक ने उन्हें राख दी और कहा की पहले गड्ढे को खुदवाकर शव को बाहर निकलवाना अगर शव गला न हो तो शव की आखों पर राख रख देना 10 से 15 मिनट में वह जिन्दा हो जायेगा।

परिजन घर आये और मंगलवार को गड्ढा जेसीबी मशीन से खुदवाने लगे यह खबर जब आस पास के ग्रामीणों को लगी तो हजारों की संख्या में इस चमत्कार को देखने के लिए लोग एकत्रित होने लगे। किसी ने पुलिस को सूचना दे दी । सूचना मिलने पर प्रभारी निरीक्षक दिनेश कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे तभी लेखपाल प्रमोद कुमार भी वहां पहुंच गये और परिजनों से जानकारी लेकर अपने उच्च अधिकारियों को अवगत कराकर मानवीय दृष्टि से गड्ढा को जेसीबी से बंद करवाया।