बसपाइयों में चले लाठी-डंडे,आपस में भिड़े कार्यकर्ता, पुलिस ने संभाला

|

Updated: 22 Sep 2019, 06:55 PM IST

Haryana: विवाद सुरेन्द्र वशिष्ठ की उम्मीदवारी को लेकर हुआ, बसपा के राष्ट्रीय नेता सतीश मिश्रा भी वहां से जान बचा कर भाग निकले

हरियाणा में चुनावी दंगल शुरू होते ही बसपाइयों में आपस में ही विरोध होना शुरू हो गया। जबकि बसपा सुप्रीमो ने घोषणा की थी कि हम हरियाणा में हर सीट पर खुद प्रत्याशी उतारेंगे। रविवार को बहुजन समाज पार्टी का कार्यकर्ता सम्मेलन था। सम्मेलन में बसपा कार्यकर्ताओं ने लाठी और डंडों से एक दूसरे पर प्रहार किया। विवाद सुरेन्द्र वशिष्ठ की उम्मीदवारी को लेकर हुआ। कार्यकर्ता पृथला से बसपा प्रत्याशी सुरेन्द्र वशिष्ठ को उम्मीदवार बनाने पर विरोध करने लगे। हरियाणा में टिकट वितरण को लेकर बसपा के राष्ट्रीय नेता सतीश चंद्र मिश्रा हरियाणा के फरीदाबाद बल्लमगढ़ में बसपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करने पहुंचे थे। बैठक शुरू होते ही बसपा के एक गुट ने सतीश चंद्र मिश्रा पर फरीदाबाद जिले के पृथला विधानसभा क्षेत्र से सुरेन्द्र वशिष्ठ को बसपा के टिकट बेचने का आरोप लगाया तो वही दूसरी ओर बैठक में बैठे दूसरे गुटने हंगामा कर दिया पहले गुटने ने सुरेश वशिष्ठ की टिकट बदलने की मांग की तो वहीं पर सुरेश वशिष्ठ के समर्थकों ने जमकर हंगामा किया। जिसको लेकर बैठक में ही एक दूसरे गुट पर नेताओं ने आपस में आरोप लगाये वही बसपा के नेता सतीश मिश्रा के सामने ही दोनों गुटों ने आपस में जमकर लाठी डंडे चले और देखते.देखते बैठक रण में तब्दील हो गई । बसपा के नेता जहां पार्टी की बैठक करने गए थे वहा से भागते हुए नजर आए जब दोनों गुटों में लाठियां बरसती दिखाई दी तो बसपा के राष्ट्रीय नेता सतीश मिश्रा भी वहां से जान बचा कर भाग निकले।