किसान आंदोलनः गाजियाबाद के यूपी गेट बॉर्डर पर किसान कर रहे आंदोलन, एलएच 9 रास्ता बंद

|

Updated: 27 Dec 2020, 10:01 PM IST

कृषि कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन रुकने का नाम नहीं ले रहा है।

Farmers protest road block

गाजियाबाद. कृषि कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन रुकने का नाम नहीं ले रहा है। दिल्ली से सटे गाजियाबाद के यूपी गेट बॉर्डर पर किसान धरने पर बैठे हुए दिखे। किसान यहां नेशनल हाईवे 9 पर ही तंबू लगाए हुए हैं और यह रास्ता पूरी तरह से बंद है। यानी गाजियाबाद से दिल्ली जाने वाले लोगों को दूसरे विकल्प लेने पड़ रहे हैं। यदि गाजियाबाद की तरफ से किसी को दिल्ली जाना है तो नेशनल हाईवे 9 को छोड़कर आनंद विहार कौशांबी के रास्ते दिल्ली की तरफ जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें- एशिया का सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थल बनेगी अयोध्या, मिलेंगी चौड़ी सड़कें, शहर के अंदर चलेगी इलेक्ट्रिक कार्ट

इसके अतिरिक्त गाजियाबाद से दिल्ली में प्रवेश करने के लिए महाराजपुर बॉर्डर और भोपुरा की ओर से दिल्ली जाना हो रहा है। इसके अलावा लोनी की तरफ से भी लोग दिल्ली में प्रवेश कर रहे हैं। बहरहाल अभी गाजियाबाद की तरफ से दिल्ली जाने के लिए लोगों को करीब 5 से 15 किलोमीटर ज्यादा चलना पड़ रहा है। हालांकि दिल्ली से गाजियाबाद की तरफ आने के लिए नेशनल हाईवे 9 का फ्लाईओवर खुला हुआ है। दिल्ली से गाजियाबाद नेशनल हाईवे 9 के रास्ते वाहन सुचारू रूप से चल रहे हैं।

ये भी पढ़ें- Weather Alert: तीन दिनों के लिए yellow alert जारी, 31 दिसंबर को पड़ेगा काफी घना कोहरा

रविवार को भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के सदस्यों ने भी कानून के विरोध में दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर को जाम कर दिया है। केवल एंबुलेंस की गाड़ियों को ही जाने दिया जा रहा है। भाकियू कार्यकर्ताओं का दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर पर तीनों नए कृषि कानूनों की वापसी को लेकर लगभग एक महीने से धरना प्रदर्शन जारी है। भाकियू के जिला महासचिव घनेंद्र शर्मा का कहना है कि बॉर्डर पर रविवार को सभी रास्ते पूरी तरह जाम कर दिए गए हैं। केवल एंबुलेंस को निकलने के लिए रास्ता दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जब तक तीनों कृषि कानून वापस नहीं हो जाते तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा।