Exclusive: Ghaziabad की इन सोसाइटी के 4 लाख लोगों पर रखी जा रही है नजर

|

Updated: 28 Mar 2020, 12:50 PM IST

Highlights

  • Ghaziabad में अब तक मिल चुके हैं पांच केस
  • Raj Nagar Extension के ढाई लोगों की हो रही निगरानी
  • CMO ने कहा— घर पर रहकर लड़ा जा सकता है कोरोना से

Tejas Chauhan@

गाजियाबाद। कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग बेहद गंभीर है। इसके चलते राजनगर एक्सटेंशन (Raj Nagar Extension) के 2.50 लाख लोगों पर नजर रखी जा रही है। जिले में अब तक कोरोनावायरस के कुल 5 केस सामने आ चुके हैं। इनमें से दो ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। जिन इलाकों में कोरोना के मरीज पाए गए हैं, उन इलाकों में करीब 4 लाख लोग स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में हैं।

1290 लोग आए विदेश से

गाजियाबाद (Ghaziabad) के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) नरेंद्र कुमार गुप्ता ने बताया कि विदेश से यात्रा किए हुए करीब 1290 लोग अभी तक जनपद में आए हैं। इनमें से 303 लोगों को 28 दिन के क्वॉरेंटाइन में रखा गया था, जो बिल्कुल ठीक हैं। इसके अलावा वर्तमान में 936 लोगों को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है। जिले में अब तक कुल 113 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इनमें से 96 की रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि 12 की रिपोर्ट आनी बाकी है।

यह भी पढ़ें: Lockdown: पुलिस रोकती रही लेकिन हजारों लोग पैदल ही बीवी—बच्चों के साथ जा रहे अपने घर, देखिए हैरान कर देने वाली तस्वीरें

दो मरीज हो चुके हैं ठीक

जनपद में वर्तमान में 3 लोग कोरोना वायरस पॉजिटिव हैं। अब तक यहां कुल 5 मरीज मिले हैं। इनमें से दो पूरी तरह स्वस्थ हैं जबकि तीन जिला एमएमजी चिकित्सालय में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं। 6 लोग ऐसे हैं, जिनके करीबी कोरोना वायरस से पीड़ित पाए गए हैं। उनके सैंपल भी जांच के लिए दिल्ली एनसीडीसी भेजे गए हैं।

512 घरों का हुआ सर्वे

उनका कहना है कि एसपीएसएस/पीएलएस ने हाल में ही 512 घरों का सर्वे किया है। इनमें छह व्यक्ति विदेशी यात्रा किए हुए पाए गए। इनमें फ्लू से संबंधित लक्षण नहीं पाए गए थे, लेकिन उनके घर के दरवाजे पर स्टिकर लगाकर उन्हें भी होम क्वॉरेंटाइन की सलाह दी गई है। इसके अलावा 414 घरों के सर्वे में दो व्यक्ति विदेश से आए हुए मिले। उनमें भी शुरू से संबंधित लक्षण नहीं हैं लेकिन उनको होम क्वॉरेंटाइन किया गया है।

यह भी पढ़ें: Baghpat: कोरोना के मरीजों की ड्यूटी में लगे मेडिकल स्टाफ ने कहा— नहीं मिल रहा है सैनिटाइजर

इन सोसाइटी पर रखी जा रही है निगरानी

उन्होंने बताया कि राजनगर एक्सटेंशन की 32 ऐसी सोसाइटी हैं, जिनमें करीब ढाई लाख लोग रह रहे हैं। उनकी बराबर मॉनिटरिंग की जा रही है। इसके अलावा कौशांबी क्षेत्र की 10 सोसाइटी ऐसी हैं, जिनमें लगभग एक लाख लोग रहते हैं। उन्हें भी निगरानी में रखा गया है। शालीमार गार्डन-2 की 23 सोसाइटी में रहने वाले 50 हजार और वैशाली सेक्टर—6 की 20 सोसाइटी में 50 हजार लोगों को भी निगरानी में रखा गया है। यानी कुल चार लाख लोगों को पूरी तरह निगरानी में रखा गया है। सीएमाओ ने यह भी कहा कि किसी को भी बेवजह घबराने की आवश्यकता नहीं है। केवल सावधानी रखने की आवश्यकता है। कोरोनावायरस को गंभीरता से लिया जाए। यदि सभी लोग अपने घर पर रहें तो निश्चित तौर पर कोरोनावायरस से लड़ा जा सकता है।