बिना गारंटी महिलाएं बिजनेस के लिए ले सकती हैं लोन, ये बैंक देगी 10 लाख रुपए

|

Published: 20 Nov 2020, 04:32 PM IST

  • Business Loan for women : महिला उद्यमियों को छोटे बिजनेस के लिए स्मॉल इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट बैंक की ओर से दिया जाएगा लोन
  • लोन लेने के लिए महिला उद्यमी का बिजनेस में 51 फीसदी हिस्सेदारी होना जरूरी है

नई दिल्ली। महिलाओं को स्व-रोजगार के लिए प्रोत्साहित करने एवं उनकी आमदनी बढ़ाने के मकसद से कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। इनमें सरकार के अलावा अलग-अलग बैंक भी अपना योगदान दे रहे हैं। इसी के तहत स्मॉल इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट बैंक (SIDBI) की ओर से खास स्कीम चलाई जा रही है। जिसमें महिला उद्यमियों को अपना बिजनेस शुरू करने के लिए 10 लाख रुपए तक का लोन दिया जाएगा। अच्छी बात यह है कि इसमें महिलाओं को किसी तरह की गारंटी या सिक्योरिटी की जरूरत नहीं पड़ेगी।

महिला उद्योग निधि योजना से मिलेगी मदद
स्मॉल इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट बैंक की ओर से महिलाओं को ये लोन महिला उद्योग निधि योजना के तहत मुहैया कराया जाएगा। इसमें महिलाएं घर बैठे छोटे बिजनेस से अच्छी कमाई कर सकती हैं। इसके लिए बैंक 10 लाख रुपए तक का लोन देते हैं। इसके लिए किसी सिक्योरिटी या गारंटी की जरूरत नहीं होती है। योजना के अंतर्गत दी जाने वाली रकम का उपयोग छोटे व्यवसाय (MSME) जैसे- मैन्चुफैक्चरिंग और प्रॉडक्शन से जुड़ी गतिविधियों में किया जा सकता है। इसमें लोन भुगतान की अधिकतम अवधि 10 साल तक है।

लोन लेने के लिए ध्यान रखनी होंगी ये बातें
1.छोटे व्यवसाय (MSME), अति-छोटे व्यवसाय (SSI) की शुरुआत करने के लिए आवेदक महिला का किसी उद्योग से जुड़ा होना जरूरी है।
2.व्यवसाय में महिला उद्यमी का मालिकाना हक़ कम से कम 51% होना चाहिए।
3.बिजनेस ऐसा हो जिसमें 5 लाख रुपए न्यूनतम और अधिकतम 10 लाख रुपए की लागत आए। इससे ज्यादा बजट पर लोन नहीं मिलेगा।
4.योजना के तहत दिए जाने वाले लोन पर लगने वाली ब्याज दरें SIDBI की ओर से तय की जाएंगी।
7.स्वीकृत लोन के अनुसार संबंधित बैंक प्रति वर्ष 1% का सर्विस टैक्स लिया जाता है।

इन उद्योगों को मंजूरी
महिला उद्योग निधि योजना के तहत ब्यूटी पार्लर, सैलून, सिलाई, कृषि और कृषि उपकरणों की सेवा, कैंटीन और रेस्टोरेंट, नर्सरी, लॉन्ड्री और ड्राई क्लीनिंग, डे केयर सेंटर, कम्प्यूटराइज़्ड डेस्क टॉप पब्लिशिंग, केबल टीवी नेटवर्क, फोटोकॉपी (ज़ेरॉक्स) सेंटर, सड़क परिवहन ऑपरेटर, प्रशिक्षण संस्थान, वॉशिंग मशीन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक और इलेक्ट्रिकल गैजेट्स रिपेयरिंग, जैम—जेली व मुरब्बा बनाना आदि छोटे उद्योग शुरू किए जा सकते हैं। इन बिजनेस के लिए बैंक महिला उद्यमियों को लोन मुहैया करा सकती है।