Pashu kisan credit card: पशुपालकों को बिना गारंटी मिलेगा 1.60 लाख तक लोन, 4 लाख लोगों ने किया आवेदन

|

Published: 16 Oct 2020, 02:12 PM IST

  • Pashu kisan credit card: हरियाणा सरकार की ओर से किसानों एवं पशुपलाकों की आमदनी बढ़ाने के लिए चलाई जा रही योजना
  • राज्य सरकार की ओर से अभी तक करीब 60 हजार लाभर्थियों को दिए गए हैं कार्ड

नई दिल्ली। पशुपालकों और किसानों की आमदनी बढ़ाने के मकसद से पशु किसान क्रेडिट कार्ड (Pashu kisan credit card) योजना चलाई जा रही है। ये योजना केंद्र सरकार की किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) योजना की तर्ज पर शुरू की गई है। जिसका संचालन हरियाणा सरकार (Haryana Government) कर रही है। इसमें राज्य सरकार लोगों को पशु खरीद के लिए 1.60 लाख रुपए तक का लोन बिना गारंटी के मुहैया कराती है। राज्य के कृषि मंत्री जेपी दलाल के मुताबिक सरकार ने 8 लाख पशुपालकों को यह कार्ड जारी करने का लक्ष्य रखा है। अभी तक करीब 4 लाख आवेदन आए हैं। इनमें से लगभग 60 हजार से अधिक लाभार्थियों को कार्ड बांटे गए हैं। अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो इन प्रक्रियाओं का अपना सकते हैं।

बैंकों की ओर से लगाए जा रहे हैं कैम्प
ज्यादा से ज्यादा किसान और पशुपालक किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ ले सके इसके लिए बैंकों की ओर से जगह-जगह कैम्प लगाए जा रहे हैं। पशु चिकित्सक पशु अस्पतालों में विशेष होर्डिंग लगा कर योजना की जानकारी देने की योजना बना रहे हैं। सभी पात्र आवेदकों को इसका लाभ मिल सके इसके लिए जागरूकता अभियान भी चलाए जा रहे हैं। अभी तक प्रदेश में करीब 16 लाख परिवारों के पास मौजूद दुधारू पशुओं की टैगिंग की गई है।

आवेदन की प्रक्रिया
पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक अपने नजदीकी बैंक में जाकर संपर्क कर सकते हैं। यहां आपको योजना से संबंधित फॉर्म मिलेगा। जिसमें निजी जानकारी भरने समेत आपको आधार कार्ड (Aadhaar card), पैन कार्ड (Pan card), वोटर कार्ड (Voter id card) व पासपोर्ट साइज फोटो की जरूरत होगी। आवेदक का हरियाणा राज्य का स्थायी निवासी होना जरूरी है। फॉर्म के सत्यापन के एक महीने के बाद बैंक की ओर से आपके नाम पर कार्ड जारी किया जाएगा।

योजना से होने वाले फायदे
पशु किसान क्रेडिट कार्ड के तहत पशु पालक पशुओं को आसानी से खरीद सकते हैं। इसके लिए उन्हें सरकार की ओर से छूट भी मिलती है। जिससे वे कम निवेश में ही अपना डेयरी बिजनेस शुरू कर सकते हैं। एक भैंस के लिए सरकार 60,249 रुपए का लोन देगी। वहीं भेड़-बकरी के लिए 4063 रुपए, अंडा देने वाली मुर्गी के लिए 720 रुपए का ऋण दिया जाएगा। पशु किसान क्रेडिट कार्ड के तहत पशुपालकों को केवल 4 प्रतिशत ब्याज देना होगा। जबकि 3 प्रतिशत की छूट सरकार की ओर से दी जाएगी। ऋण राशि अधिकतम 3 लाख रुपए तक होगी।