Union Bank के Customers के लिए खुशखबरी, जानिए सस्ता किया Loan

|

Published: 10 Aug 2020, 06:35 PM IST

  • Union Bank of India ने MCLR दरों में की 15 आधार अंकों की कटौती
  • Canara Bank, IOB, और Bank of Maharashtra भी कर चुके हैं कटौती

नई दिल्ली। देश के तमाम सरकारी बैंक अपने कस्टमर्स को एमसीएलआर ( MCLR ) में कटौती कर राहत देने का प्रयास कर रहे हैं। कुछ दिनों से केनरा बैंक ( Canara Bank ), बैंक ऑफ महाराष्ट्र ( Bank of Maharashtra ), इंडियन ओवरसीज बैंक ( Indian Overseas Bank ) की ओर से एमसीएलआर दरों में कटौती कर दी है। अब इस फेहरिस्त में नाम यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ( Union Bank of India ) का भी जुड़ गया है। जिसके कस्टमर को राहत देते हुए 15 आधार अंकों की कटौती कर दी है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर इस कटौती के बाद आपको भी बताते हैं कि बैंकों की ब्याज दरें कितनी हो गई हैं।

यह भी पढ़ेंः- क्या आपकी Health Inusurance Policy Cover करती है Corona Vaccine का खर्च?

इतनी हुई ब्याज दरें
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने सोमवार को विभिन्न अवधि के कर्ज पर एमसीएलआर में 0.15 फीसदी की कटौती कर दी है। नई दर 11 अगस्त से लागू हो जाएंगी। यूनियन बैंक की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार एक साल के एमसीएलआर को 7.40 फीसदी से कम कर 7.25 फीसदी कर दिया है। एक दिन के कर्ज के लिए एमसीएलार 6.80 फीसदी कर दी गई हैं। वहीं तीन महीने और छह महीने की अवधि के लिए यह ब्याजदर क्रमश: 6.95 फीसदी और और 7.10 फीसदी कर दी गई हैं। बैंक द्वारा दिए गए बयान के अनुसार जुलाई 2019 के बाद से ब्याज दरों में लगातार कटौती देखने को मिल रही है। यह लगातार 14वीं कटौती है।

यह भी पढ़ेंः- Zomato महिला कर्मचारियों को एक साल में देगा 10 ‘Period Leave’, जानिए कंपनी की नई पॉलिसी

आईओबी ने भी की कटौती
एक और सरकारी बैंक इंडियन ओवरसीज बैंक की ओर से भी सभी अवधि के एमसीएलआर में 0.10 फीसदी की कटौती देखने को मिली है। आईओबी के अनुसार एक साल के लिए एमसीएलआर दरों में 7.75 फीसदी के कम कर 7.65 फीसदी कर दी है। नई दरें आज से यानी सोमवार लागू हो गई हैं। वहीं दूसरी ओर बैंक ऑफ महाराष्ट्र की ओर से भी एमसीएलआर दरों में 0.20 प्रतिशत की कटौती कर दी है, जो 7 अगस्त से लागू हो चुकी हैं। जबकि केनरा बैंक की ओर से एमसीएलआर की दरों में 30 आधार अंकों की कटौती की है।

यह भी पढ़ेंः- Former PM Manmohan Singh ने Economy में सुधार को दिए सुझाव, जानिए कौन से तीन कदम उठाने को कहा