RBI की तरफ से ब्याज दरों में नहीं हुआ बदलाव, जानिए कहां FD कराने पर मिलेगा ज्यादा फायदा

|

Updated: 08 Jun 2021, 08:45 PM IST

 

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ब्याज दरों को लेकर ताजा घोषणा के बाद फिक्स्ड डिपॉजिट में आपको कहां पर ज्यादा ब्याज मिल रहा है, जानना जरूरी है। जहां, देश के टॉप बैंकों में एफडी की दर 5.50 फीसदी है, फाइनेंस कंपनियों में ज्यादा ब्याज मिलता है।

 

नई दिल्ली। RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट तथा रिवर्स रेपो रेट में बदलाव नहीं किए जाने की घोषणा की, जो क्रमशः 4% और 3.35% पर पहले की तरह बरकरार रहेंगी। मौद्रिक नीति समिति (MPC) की 2 जून, 2021 से 4 जून, 2021 तक निर्धारित बैठक के बाद यह घोषणा की गई। RBI ने लगातार छठी बार रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है। मुद्रास्फीति को नियंत्रित करने तथा इसे MPC के 4% के लक्ष्य के करीब रखने के उद्देश्य से रेपो रेट में बदलाव नहीं किया गया है। इसके अलावा, वर्तमान में बेहद कमजोर आर्थिक हालात को देखते हुए इन उपायों से बाज़ार में नकदी के प्रवाह को बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

हालांकि इससे लोगों के लिए ऋण लेना काफी आसान हो गया है, लेकिन सभी फाइनेंसरो पर डिपॉजिट रेट को कम करने का भारी दबाव है। पूरी दुनिया के मौजूदा हालात ने लोगों के सामने बचत की अहमियत को उजागर किया है, जो आपात स्थिति के लिए और भी अधिक है। हाल की घोषणाओं के साथ, डिपॉजिट रेट में और ज्यादा कटौती की जा सकती है, इसी वजह से निवेशकों के लिए अपनी जमा-पूँजी को बढ़ाने हेतु मौजूदा उच्च FD दरों पर निवेश करना महत्वपूर्ण है। कुछ निवेशक बाज़ार से जुड़े साधनों में निवेश करने पर विचार कर सकते हैं, लेकिन इस तरह के निवेश जोखिम के अधीन होते हैं जो बाज़ार की गतिविधियों पर निर्भर हैं।

FD क्यों है बेहतर विकल्प

बीते दो साल से एफडी पर ब्या्ज दरें लगभग स्थिर हैं. ऐसे में एक एफडी निवेश के तौर पर यह जानना जरूरी है किन तरीके से उन्हेंन ज्या दा रिटर्न मिल सके. एफडी में निवेश के लिए मार्केट में कई विकल्प हैं. आइए जानते हैं कहां कितना मिल रहा है ब्याज

कंपनी ब्याज दर

बजाज फाइनेंस - 6.75%
एसबीआई - 5.40%
आईसीआईसीआई - 5.50%
एचडीएफसी बैंक - 5.50%
पंजाब नेशनल बैंक - 5.25%

कैसे बनाए रणनीति

अपने निवेश पोर्टफोलियो में विविधता लाने और उसे संतुलित करने के लिए, एक शानदार फाइनैंसियल प्लान का चयन करना ही सबसे बेहतर होता है, जिस पर बाज़ार की गतिविधियों का कोई असर नहीं हो। मौजूदा दौर में बजाज फाइनैंस समेत कई ऐसे ऑनलाइन FD निवेश का एक पसंदीदा विकल्प हो सकता है, जो आपकी जमा-पूँजी की उच्चतम सुरक्षा के साथ-साथ आकर्षक रिटर्न प्रदान करता है।
बजाज फाइनैस ऑनलाइन FD वरिष्ठ नागरिकों को किसी भी माध्यम से निवेश करने पर 6.75% तक के बेहद आकर्षक ब्याज़ दरों का प्रस्ताव देता है, जबकि ऑनलाइन निवेश करने वाले गैर-वरिष्ठ नागरिकों को 6.60% तक के ब्याज़ दर का प्रस्ताव मिलता है। पोस्ट ऑफिस और अन्य सभी बैंक FDs की तुलना में ये ब्याज़ दरें अपेक्षाकृत अधिक हैं। उच्चतम ब्याज़ दर से निवेशकों को मैच्योरिटी पर बेहतर रिटर्न मिलना सुनिश्चित हो जाता है, और इस तरह उनकी जमा-पूँजी में वृद्धि होती है।

इस तरह आप अलग-अलग समयावधि पर लागू आकर्षक FD दरों पर विचार कर सकते हैं। चक्रवृद्धि ब्याज़ के फायदे की वजह से लंबे समय के लिए निवेश करने पर ज्यादा रिटर्न मिलता है। इस तालिका से यह स्पष्ट हो जाता है कि, बजाज फाइनैंस ऑनलाइन FD में निवेश करने वाले निवेशकों को पर्याप्त रिटर्न मिल सकता है।

इसके अलावा, आप नॉन-कम्युलेटिव FD में अपनी पसंद के अनुरूप समयावधि के लिए इतनी ही राशि का निवेश करके नियमित अंतराल पर भुगतान पाने के विकल्प का भी लाभ उठा सकते हैं। निवेशक मासिक, तिमाही, छमाही, वार्षिक आधार पर, या फिर मैच्योरिटी पर भुगतान पाने का विकल्प चुन सकते हैं।

समय से पहले निकासी

कोई भी निवेशक आपात स्थिति के दौरान अपने फिक्स्ड डिपॉजिट से समय से पहले पैसे निकाल सकता है। बजाज फाइनैंस FD पर आसानी से मिलने वाला लोन प्रदान करता है, जिससे निवेशक अपनी FD पर निवेश की गई राशि के 75% तक का लोन प्राप्त कर सकते हैं। FD पर लोन देने की प्रक्रिया में न्यूनतम कागजी कार्रवाई की जरूरत होती है, साथ ही यह प्रक्रिया बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के तुरंत पूरी की जाती है।

सुविधाजनक ऑनलाइन प्रक्रिया

अब निवेशक विभिन्न प्रकार के दस्तावेजों की कॉपी जमा करने और लंबी कतारों में खड़े होने की परेशानी के बिना FD में निवेश कर सकते हैं।