कोरोना के ​इस संक्रमण काल में बुध ग्रह को ऐसे करे मजबूत, भगवान गणपति की कृपा से हर मुश्किल हो जाएगी दूर

|

Published: 03 Jun 2020, 10:11 AM IST

भगवान गणपति को प्रसन्न करने के महा उपाय...

यदि बुध कमजोर है तो उसे ऐसे बलवान बनाएं और भगवान गणपति को प्रसन्न करने के महा उपाय क्या है और किन आदतों के कारण बुध ग्रह आपको अशुभ फल देता है. आने वाले दिन को कैसे बनाएं भाग्यशाली. ऐसे कई सवाल हैं जिन्हें लेकर आप काफी सोचते होंगे. आइए आज आपको बुद्ध के महत्व और विशेषता के बारे में बताते हैं.


देश दुनिया में फैले कोरोना वायरस के चलते इन दिनों हर ओर भय का वातावरण बना हुआ है। ऐसे में जहां लोग वैज्ञानिक तरीकों के साथ ही आध्यात्मिक तरीकों से भी इसके उपचार को खोज रहे हैं। वहीं ज्योतिष के जानकारों का मानना है कि कोरोना को फेलाने में बुध ग्रह की भी खास भूमिका रही है। इसका कारण ये है कि ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह जिन भी ग्रहों की दृष्टि में रहता है वह उन्हीं के अनुसार उचित या अनुचित फल देता है।

ऐसे में ज्योतिष के कई जानकारों का ये भी मानना है कि कोरोना को हराने में बुध की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण रहेगी। वहीं बताया जाता है कि कोरोना का पहला हमला गले से शुरू होता है।

MUST READ : विश्व में भगवान गणेश का ऐसा इकलौता मंदिर, जानिये क्या है खास

ऐसे कई ज्योतिषों का मानना है कि बुध को मजबूत कर हम कोरोना को हरा सकते हैं। इसका कारण ये है कि ज्योतिष में बुध को संचार, बुद्धि के अलावा कान, नाक, गले से भी सम्बंधित बताया गया है।

ऐसे में बुध के कारक देव श्रीगणेश के होने के चलते उन्हें प्रसन्न करना आवश्यक माना जा रहा है। वहीं श्रीगणेश का प्रिय वार बुध होने के चलते इस दिन श्रीगणेश को प्रसन्न करना आसान माना जाता है।


ऐसे समझें बुध का महत्व और इसकी विशेषता...

- बुध ग्रहों में सबसे सुकुमार और सुन्दर ग्रह है, इसीलिए इन्हें राजकुमार ग्रह भी कहा जाता है।

- इनके पास पृथ्वी तत्व है और यह मिथुन और कन्या राशी के स्वामी है।

- बुध ग्रह बुद्धि, एकाग्रता,वाणी,त्वचा,सौंदर्य तथा सुगंध और व्यापार का कारक है।

- बुध संचार और कान नाक गले से भी सम्बन्ध रखता है।

- बुद्ध से बुद्धि की प्रखरता आती है तथा गणित के और आर्थिक मामलों में सफलता मिलती है।

- बुध ग्रह यदि पीड़ित हो जाए, तो बहन बेटी बुआ का सुख नहीं मिल पाता है।

- बुध ग्रह के खराब होने पर व्यापार में लगाया हुआ पैसा तुरंत फंस जाता है।

 

MUST READ : दावा- पहले भी आ चुका है कोरोना जैसा एक वायरस, तब भगवान महाकाल के पूजन से हुआ था उसका निदान

भगवान गणेश की उपासना से धन प्राप्ति...

- भगवान् गणेश बुद्धि और समझदारी के देवता माने गए हैं।

- इनकी उपासना से अत्यंत तीव्र बुद्धि और विद्या की प्राप्ति होती है।

- धन कमाने में भी बुद्दि की आवश्यकता होती है, जो गणेश जी की कृपा द्वारा सरलता से मिल जाती है।

- इसके अलावा धन सम्बन्धी कोई भी बाधा आ रही हो तो वो भी इनकी कृपा से समाप्त हो जाती है।

- भगवान गणेश की उपासना के विशेष प्रयोग करने वाले को कभी भी धन का अभाव नहीं हो सकता।

- शुक्ल पक्ष के बुधवार के दिन सुबह के समय 11 मोदक का भगवान गणपति का भोग लगाएं गाय के घी का एक दीपक जलाएं एक मोदक प्रसाद के रूप में घर ले आए और बाकी मोदक छोटे बच्चों में बांट दें।

MUST READ : आज का राशिफल - इन 5 राशि वालों के लिए उन्नति के साथ ही आय के नए स्रोत भी खुलेंगे

बुध ग्रह को ऐसे करें बलवान...

- बुध ग्रह को बलवान करने के लिए मां दुर्गा और भगवान गणेश की पूजा अर्चना जरूर करें।

-हरे रंग की वस्तुओं का ज्यादा प्रयोग करें।

- अपनी बहन बेटी बुआ को सम्मान दें।

- अपने घर की उत्तर दिशा में जल भरकर जरूर रखें।

- जरूरतमंद कन्याओं के विवाह में भोज्य सामग्री आदि देकर मदद करें।

- बुध ग्रह की मजबूती के लिए किन्नरों को भी दवा वस्त्र भोजन का दान करें।

मुश्किलों से मिलेगा निदान...

- लाल रंग के भगवान गणेश की स्थापना करें।

- नित्य प्रातः गणेश जी को लाल पुष्प और 27 हरी दूर्वा की पत्तियां अर्पित करें।

- इसके बाद वक्रतुण्डाय हुं मंत्र का जाप लाल चंदन की माला से करे।

- लगातार 27 दिन तक यह मंत्र जाप करते रहें।

- जाप पूर्ण होने के बाद और कार्य सिद्ध होने के बाद, जरूरतमंद लोगों को खाना जरूर खिलाएं।