माल्या ने कहा- मैं भगोड़ा नहीं हूं, इंग्लैंड में सन 92 से रह रहा हूं, CBI ने पेश किए सबूत

लंदन की वेस्टमिंटर कोर्ट ने सुनवाई को दो महीने के लिए टाल दी है। अब इस मामले में अगली सुनवाई 14 सितंबर को होगी। वहीं सुनवाई से पहले मीडिया से बात करते हुए माल्‍या ने कहा कि भारत जब कोर्ट में अपने सबूत सौंप देगा तब हम अपनी पैरवी करेंगे। 
नई दिल्ली: विभिन्न बैंकों से 9 हजार करोड़ रुपए का कर्ज लेकर फरार शराब कारोबारी विजय माल्या को भारत प्रत्यर्पित करने के मामले में लंदन की वेस्टमिंटर कोर्ट ने सुनवाई को दो महीने के लिए टाल दी है। अब इस मामले में अगली सुनवाई 14 सितंबर को होगी। वहीं सुनवाई से पहले मीडिया से बात करते हुए माल्‍या ने कहा कि भारत जब कोर्ट में अपने सबूत सौंप देगा तब हम अपनी पैरवी करेंगे। 

#WATCH: Vijay Mallya leaves Westminster Magistrates' Court in London after appearing in the extradition case. Next date of hearing 14 Sept pic.twitter.com/NGid827OQ7

— ANI (@ANI_news) 6 July 2017
मीडिया से बात करते हुए माल्या ने कहा कि मैं 1992 से लंदन का निवासी हूं। मैं समझ नहीं रहा हूं कि भारत की ओर से भगोड़ा क्यों घोषित किया गया। 

I have been living in England since 1992: Vijay Mallya in London on question "why did he run away from Indian law" pic.twitter.com/gH1KieZmQV

— ANI (@ANI_news) 6 July 2017
CBI ने पेश किए 2000 पन्नों के सबूतCBI ने माल्या के खिलाफ 2000 पन्नों के सबूत पेश किए। सीबीआई अधिकारी ने कहा कि विजय माल्या के खिलाफ काफी सबूत हैं। इसी सिलसिले में कोर्ट में दो हजार पन्नों के सबूत पेश किए गए हैं। 
2016 से लंदन में है माल्यागौरतलब है कि माल्या मार्च 2016 से माल्या मार्च 2016 से लंदन में है। भारत ने ब्रिटेन सरकार से उसके प्रत्यर्पण की अपील की थी। बता दें कि इस पर लंदन प्रशासन ने माल्या को रेड कॉर्नर नोटिस के आधार पर पिछली सुनवाई में माल्या को 4 दिसंबर तक के लिए बेल मिली। इस दौरान माल्या ने कहा था, "मैं सभी आरोपों से इनकार करता हूं। मैं किसी भी अदालत से माल्या मामले में अप्रैल में सुनवाई हुई थी। तब स्कॉटलैंड यार्ड ने माल्या को कोर्ट में पेश किया था। गिरफ्तारी के तीन घंटे बाद ही माल्या को 4.5 करोड़ जमा कर जमानत मिल गई । 


2016 से लंदन में रह रहा है माल्याशराब कारोबारी विजय माल्या पर देश के कई बैंकों का 9 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का कर्ज है। इस मामले में माल्या पर देश में कई मुकदमे चल रहे हैं। 2016 में माल्या बैंकों को कर्ज लौटाने के बजाए लंदन भाग गया था। तभी से वह लंदन में रह रहा है। कुछ महीने पहले माल्या को भारत के रेड कॉर्नर नोटिस पर लंदन में गिरफ्तार किया गया था। लेकिन बाद में उसे जमानत मिल गई थी। हाल ही में इंग्लैंड में हुई आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में भारत के मुकाबलों के दौरान भी माल्या स्टेडियम में दिखाई दिया था। 


पीएमएलए कोर्ट ने जारी किया वारंटकई बैंकों से करीब 9000 हजार करोड़ रुपए का कर्ज लेकर फरार हुए शराब कारोबारी विजय माल्या के खिलाफ बुधवार को पीएमएलए कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया है। कोर्ट ने यह वारंट आईडीबीआई बैंक के 900 करोड़ रुपए के कर्ज के मामले में जारी किया है। इससे पहले भी माल्या के खिलाफ कई गैर जमानती वारंट जारी हो चुके हैं।