ब्रिटेन: बोरिस जॉनसन कैबिनेट में 3 भारतवंशी, नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सुनाक को भी मिली जगह

|

Updated: 26 Jul 2019, 10:35 AM IST

  • प्रीति पटेल ( Priti Patel) के अलावा नारायणमूर्ति के दामाद ऋषि सुनाक (Rishi Sunak) और ब्रिटिश भारतीय आलोक शर्मा (Alok sharma) को भी ब्रिटिश मंत्रिमंडल में अहम जिम्मेदारी मिली है

लंदन। ब्रिटेन के नव नियुक्त प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के कैबिनेट में भारतीय मूल के तीन लोगों को जगह मिली है। भारतीय मूल की प्रीति पटेल को गृह मंत्री बनाया गया है, जबकि इन्फोसिस के को-फांउडर एनआर नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सुनाक को भी एक अहम जिम्मेदारी मिली है। उन्हें ब्रिटेन का ट्रेजरी मिनिस्टर बनाया गया है जबकि आलोक शर्मा को अंतरराष्ट्रीय विकास मंत्री बनाया गया है।

लंदन में रह रहे भारतीय मूल के लोगों के लिए यह बड़ी कामयाबी है। आपको बता दें, जॉनसन ने उन सभी लोगों को अपने मंत्री मंडल में स्थान दिया है जिन्होंने ब्रेग्जिट मुद्दे पर उनका साथ दिया था।

तीन भारत वंशियों को मिली जगह

ब्रिटेन के नए मंत्रिमंडल में तीन-तीन भारत वंशियों को जगह मिलना एक बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। इनमें प्रीति पटेल को गृह-मंत्री जैसी अहम जिम्मेदारी मिली है। वह इस पद पर पहुंचने वालीं भारतीय मूल की पहली महिला हैं। प्रीति मूलतः वे गुजराती हैं और उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी समर्थक भी माना जाता हैं। वे ब्रेग्जिट को लेकर थेरेसा मे की नीतियों की मुखर आलोचक थीं।

कार्यभार संभालने के बाद प्रीति पटेल ने मीडिया से कहा, ‘‘अपने कार्यकाल के दौरान मेरी पहली कोशिश यही होगी कि हमारा देश और यहां के लोग सुरक्षित रहें। बीते कुछ समय से सड़कों पर भी काफी हिंसा देखी गई है, हम इस पर भी रोक लगाएंगे। हमारे सामने कुछ चुनौतियां जरूर हैं लेकिन हम सबसे निपटेंगे।’’

भारत से है खास नाता कुछ ऐसी है नवनिर्वाचित ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन की शख्सियत, भारत से है खास नाता

प्रीति पटेल बनीं गृह मंत्री

प्रीति पटेल 2010 में पहली बार एसेक्स से कंजरवेटिव सांसद बनी थीं। डेविड कैमरन की अगुआई वाली सरकार में उन्हें कॉमनवेल्थ मालमों का मंत्रीं बनाया गया था। 2014 में उन्हें ट्रेजरी मिनिस्टर और 2015 में रोजगार मन्त्री बनाया गया। 2016 में थेरेसा मे ने उन्हें अंतर्राष्ट्रीय विकास मामलों का विदेश मंत्री बनाया था। नवंबर 2017 में थेरेसा मे ने प्रीति पटेल को अंतरराष्ट्रीय विकास मामलों के मंत्री पद से हटा दिया था। उन पर विदेश विभाग को बगैर सूचना दिए इजराइल के अफसरों से चर्चा करने का आरोप था।

 

ब्रिटिश पीएम आवास 10 डाउनिंग स्ट्रीट में आएंगी बोरिस जॉनसन की गर्लफ्रेंड?

ऋषि सुनाक को ट्रेजरी विभाग

बोरिस जॉनसन मंत्रिमंडल के युवा चेहरे ऋषि सुनाक 38 साल के हैं। इनका जन्म ब्रिटेन में ही हुआ था । फार्मासिस्ट माँ और डॉक्टर पिता की संतान सुनाक ने ऑक्सफोर्ड और स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है। सुनाक रिचमंड (यॉर्कशायर) से कंजरवेटिव पार्टी के टिकट पर 2015 में चुनाव जीते। वह इंफोसिस जसई दिग्गज कम्पनी के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति के दामाद हैं। ब्रेग्जिट समर्थक होने की वजह से ऋषि सुनाक को पूर्व पीएम थेरेसा में ने भी कैबिनेट में शामिल किया था।

आलोक शर्मा को अहम जिम्मेदारी

आलोक शर्मा को बोरिस जॉनसन ने अंतरराष्ट्रीय विकास मामलों का राज्य मंत्री बनाया है। थेरेसा मई के काल में आलोक शर्मा निर्माण-पेंशन विभाग में रोजगार मंत्री और हाउसिंग मंत्रालय भी संभाल चुके हैं। वे पिछले पांच सालों में अंतरराष्ट्रीय विकास मामलों को संभालने वाले चौथे नेता होंगे। 2010 में वह लीस्टर से चुनाव जीत पहली बार संसद पहुंचे थे। इसके लिए उन्होंने अपना अकाउंटिंग और बैंकिंग का करियर छोड़ा था। 2017 में आलोक के हाउजिंग मिनिस्टर रहने के दौरान ही ग्रेनफेल टॉवर अग्निकांड हुआ था। इस मामले में उनकी काफी किरकिरी हुई थी।

 

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..