कैंसर की बीमारी से जूझ रहा था माली, कोर्ट के एक आदेश ने बना दिया अरबपति

|

Published: 11 Aug 2018, 07:08 PM IST

कैंसर से मर रहे एक माली के हक में फैसला सुनाते हुए बीज और कीटनाशक कंपनी मोन्सेंटो को 29 करोड़ डॉलर करीब 20 अरब 3 करोड़ 75 लाख 50 हजार रुपए चुकाने को कहा है।

नर्इ दिल्ली। कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से जूझ रहा आदमी मात्र एक आदेश से अरबपति बन जाए। जी हां, आप भी कहेंगे एेसा तो सिर्फ फिल्मों की कहानी में होता है। लेकिन एेसा सच में हुआ है। यह घटना सैन फ्रांसिस्को की है। जहां अदालत ने कैंसर से मर रहे एक माली के हक में फैसला सुनाते हुए बीज और कीटनाशक कंपनी मोन्सेंटो को 29 करोड़ डॉलर करीब 20 अरब 3 करोड़ 75 लाख 50 हजार रुपए चुकाने को कहा है।

क्या कहा है कोर्ट ने
कोर्ट के अनुसार कंपनी ने माली को इस बात की जानकारी नहीं दी थी कि उनके प्राेडक्ट्स से कैंसर भी हो सकता है। कोर्ट के अनुसार डिवेन जॉनसन नाम के माली के इस केस में कंपनी का व्यवहार द्वेषपूर्ण था। कोर्ट का यह भी मानना है कि उनके प्रोडक्ट्स की वजह से जॉनसन को यह खतरनाक बीमारी दी है। कोर्ट में यह मामला 8 हफ्तों तक चला। कोर्ट ने कंपनी पर 25 करोड़ डॉलर का दंडात्मक हर्जाना लगाया। इसके साथ क्षतिपूर्ति मुआवजा (3 करोड़ 80 लाख डॉलर) और अन्य चीजें जोड़ने के बाद यह रकम 29 करोड़ डॉलर के करीब आ गई है।

इस तरह का हुआ है कैंसर
2014 में जॉनसन के शरीर पर एक लाल निशान उभर गया था। जिसके बाद पता चला कि नॉन हॉजकिन लिम्फोमा कैंसर है। जॉनसन ने कैलिफॉर्निया के एक स्कूल में काम करने के दौरान मोन्सेंटो के केमिकल का काफी इस्तेमाल किया था।

इन खबरों काे भी पढ़ें
दुनिया के पांच श्रापित खजाने, जो भी खोजने जाता है उसे मिलती है मौत

धोखाधड़ी करने वाली 5 कंपनियों की संपत्ति होने जा रही है नीलाम, सेबी करेगी कार्रवाई

दिवालिया होने की कगार पर पहुंचे फोर्टिस पूर्व मालिक, सिंह बंधुओं के बैंक खाते हए सीज

पीएम मोदी ने कहा, पेट्रोल में एथनॉल मिलाने से देश के बच जाएंगे 12,000 करोड़ रुपए

बंद होने जा रहे हैं SBI के ATM कार्ड, जल्द निपटा लें अपना काम

Related Stories