मोदी सरकार ने का बड़ा फैसला, अब आपके घर पर पहुंचेगी आपकी रसोर्इ, बस करना होगा यह काम

|

Updated: 13 Jul 2018, 08:26 AM IST

2019 से पहले मोदी सरकार ने देश की महिलाआें को बेहतरीन तोहफा दिया है, पीएनजी के लिए उन्हें अब ज्यादा मशक्कत नहीं करनी होगी, एक फाॅर्म भरने से काम हो जाएगा।

मोदी सरकार ने का बड़ा फैसला, अब आपके घर पर पहुंचेगी आपकी रसोर्इ, बस करना होगा यह काम

नई दिल्ली। 2019 के चुनाव को देखते हुए मोदी सरकार देशवासियों को लगातार एक से बढ़कर एक तोहफे दे रही है। इसी के तहत अब आपके किचन के लिए खुशखबरी है। अगर आप अभी तक अपनी रसोई में पाइप से गैस आने की सुविधा शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं तो यह इंतजार जल्‍द ही खत्‍म होने वाला है। सरकार ने मंगलवार यानी 10 जुलाई को देश के 174 जिलों में पाइप के जरिए रसोई गैस यानी PNG (पाइप्‍ड नैचुरल गैस) पहुंचाने के लिए बिडिंग लेने का प्रोसेस खत्म कर दिया है। इसके तहत सिटी गैस डिस्‍ट्रीब्‍यूशन (CGD) के नौवें चरण के लिए बिडिंग पूरी गई है।

ये है सरकार का लक्ष्य

हर घर के किचन तक पीएनजी गैस पहुंचाने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सरकार लगातार कार्यरत है और इसी दिशा को आगे बढ़ाते हुए सरकार ने 9वें सीजीडी बिडिंग राउंड के तहत देश के कई आसपास के जिलों को मिलाकर 86 जियोग्राफिकल एरिया बनाए गए हैं, जिसके दायरे में 22 राज्‍य और केंद्र शासित प्रदेश होंगे। इसके तहत देश के 174 जिले आएंगे। दावा किया गया है कि इसके जरिए देश का 24 फीसदी इलाका कवर होगा और 29 फीसदी आबादी तक PNG पहुंच पाएगी।

1 करोड़ घरों को मिलेगा फायदा

सरकार कुछ साल में प्राइमरी एनर्जी बास्केट में नैचुरल गैस की हिस्सेदारी बढ़ाकर 15 फीसदी करने का लक्ष्य लेकर चल रही है, जो फिलहाल 6 फीसदी है। इस बिड राउंड के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 1 करोड़ घरों तक पाइप्ड कुकिंग गैस कनेक्शन पहुंचाने के लक्ष्य को पूरा करने की भी योजना है। इस प्रकार 2020 तक पीएनजी कनेक्शन वाले घरों की संख्या तीन गुनी करने का लक्ष्य है। आपको बता दें कि देश के किचन का एक बड़ा हिस्सा आज भी एलपीजी सिलेंडर को भरोसे पर ही जी रहा है। अगर सरकार की ये योजना कामयाब होती है तो पीएनजी के साथ साथ गैस क्षेत्र की कंपनियों के लिए ये बड़ी उपलब्धि साबित होगी।

Related Stories