मैन्युफैक्चरिंग के बाद सर्विस सेक्टर में बड़ा सुधार, आठ महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंचा पीएमआई

|

Published: 04 Nov 2020, 03:46 PM IST

सर्विस सेक्टर पीएमआई 54.1 के साथ जबरदस्त तेजी दर्ज, आठ महीने के उच्चतम स्तर पर
लॉकडाउन के बाद अर्थव्यवस्था को धीरे धीरे खोलने से सेवा क्षेत्र में भी हो रहा है सुधार

नई दिल्ली। मैन्युफैक्चरिंग और आर्थिक गतिविधियों के सुधार की ओर बढऩे से अक्टूबर में सर्विस सेक्टर की पीएमआई में भी जबरदस्त तेजी दर्ज की गई है। सर्विस सेक्टर की पीएमआई आठ महीने के उच्चतम स्तर पर आ गई है। इससे पहले सितंबर के महीने में सर्विस सेक्टर की पीएमआई 50 से नीचे थी। जिसे गिरावट का संकेत माना जाता है। आठ महीनों में पहली बार ऐसा हुआ कि पीएमआई के ज्यादा है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर सर्विस सेक्टर की पीएमआई कितनी हो गई है।

आठ महीने की उंचाई पर पीएमआई
अनलॉक की प्रक्रिया के बाद देश में आर्थिक गतिविधियां शुरू हो गई हैं। जिसका असर कई सेक्टर्स पर भी देखने को मिल रहा है। मैन्युफैक्चरिंग के बाद अब सर्विस सेक्टर भी तेजी हो गया है। आंकड़ों के अनुसार सर्विस सेक्टर 50 के पार 54.1 पर पहुंच गया। इससे पहले सितंबर महीने में यह 49.8 पर रह था। जानकारों की मानें तो लॉकडाउन के बाद अर्थव्यवस्था को धीरे धीरे खोलने से सेवा क्षेत्र में भी सुधार हो रहा है। इसी के बल पर अक्टूबर में सेवा पीएमआई इस वर्ष फरवरी के बाद के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है।

यह भी पढ़ेंः- US Presidential Election नहीं इस कारण हुआ अमरीकी क्रूड ऑयल में इजाफा

मैन्युफैक्चरिंग में भी हुआ था सुधार
लॉकडाउन के बाद आर्थिक गतिविधियों के जोर पकडऩे के साथ ही त्योहारी सीजन के मद्देनजर मैन्युफैक्चरिंग गतिविधियों में जबरदस्त तेजी दर्ज की गयी है। इस वर्ष अक्टूबर में मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई बढ़कर 58.9पर पहुंच गया। इससे पहले इस वर्ष सितंबर में भी मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई में जबरदस्त तेजी रही थी जब यह बढ़कर 56.8 पर पहुंच गया था जो मई 2010 के बाद का उच्चतम स्तर था।

यह भी पढ़ेंः- US Presidential Election Result: New York से New Delhi तक सोना और चांदी हुआ सस्ता