International Monetary Fund Report : इस मामले में बांग्लादेश से भी नीचे आ जाएगा भारत!

|

Updated: 14 Oct 2020, 04:12 PM IST

  • पर कैपिटा जीडीपी के मामले में बांग्लादेश से पीछे आ जाएगा भारत, 1877 डॉलर रहने की संभावना
  • आईएमएफ रिपोर्ट के अनुसार भारत की पर कैपिटा जीडीपी में 10 फीसदी से ज्यादा गिरावट के आसार

नई दिल्ली। International Monetary Fund Report के अनुसार मौजूदा वित्तीय वर्ष भारत के लिए कई लिहाज से बेहतर नहीं दिखाई दे रहा है। जहां आईएमएफ रिपोर्ट भारत की जीडीपी के 10.3 फीसदी की गिरावठ का अनुमान लगाया गया है। वहीं भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपीके गिरने का अनुमान भी 10.3 फीसदी ही लगाया गया है। अगर यह अनुमान ठीक हुआ तो प्रति व्यक्ति जीडीपी के मामले में भारत बांग्लादेश से ज्यादा बुरी स्थिति में चला जाएगा। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर आईएमएफ की ओर से किस तरह के आंकड़े पेश किए गए हैं।

यह भी पढ़ेंः- iPhone 11 price in India : एप्पल इंडिया वेबसाइट से हटने के बावजूद iPhone 11 हुआ कितना सस्ता, जानिए कहां मिलेगा

बांग्लादेश से कम प्रति व्यक्ति जीडीपी का अनुमान
मंगलवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा वित्त वर्ष यानी 31 मार्च, 2021 तक भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 10.3 फीसदी की गिरावट के साथ 1877 डॉलर रह जाएगी, जबकि पड़ोसी बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी 2020 में 4 फीसदी बढ़कर 1,888 डॉलर पहुंचने का अनुमान लगाया गया है। मतलब साफ है कि भारत की प्रति व्यक्ति कमाई बांग्लादेश के मुकाबले कम होने के आसार है। ताज्जुब की बात तो ये है कि भारत एशिया की तीसरी बड़ी आर्थिक महाशक्ति है। जिसके मुकाबले बांग्लादेश की इकोनॉमी कुछ भी नहीं है। उसके बाद भी बांग्लादेश के बीते कुछ सालों से भारत को पीछे करता जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः- Dollar के मुकाबले Rupee में गिरावट से घरेलू बाजार में सोना और चांदी हुआ महंगा

जून में क्या लगाया था अनुमान
इससे पहले जून में आईएमएफ की ओर से प्रति व्यक्ति जीडीपी गिरने का अनुमान 4.5 फीसदी लगाया था। वैसे आईएमएफ की ओर से अगले वित्त वर्ष में जीडीपी की गति 8.8 फीसदी लगाई है, जिसके बाद एक बार फिर से सबसे तेजी से आगे की ओर बढऩे वाली इकोनॉमी बन जाएगा। इस दौरान चीन की विकास दर 8.2 फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया है। आईएमएफ रिपोर्ट के अनुसार चालू वित्‍त वर्ष के दौरान ग्लोबल इकोनॉमी के 4.4 फीसदी की गिरावट आने का अनुमान लगाया गया है। जबकि साल 2021 में इसमें 5.2 फीसदी की जोरदार वृद्धि देखने को मिल सकती है। रिपोर्ट के अनुसार साल 2020 में केवल चीन एकमात्र देश हो सकता है जिसकी जीडीपी में 1.9 फीसदी की वृद्धि देखने को मिलेगी।