केंद्र सरकार का इंडियन इकोनाॅमी को 2.65 लाख करोड़ रुपए का बूस्टर डोज

|

Updated: 12 Nov 2020, 03:09 PM IST

  • वित्त मंत्री ने अत्मानिर्भर भारत 3.0 के तहत 12 घोषणाओं का किया ऐलान
  • इन योजनाओं के तहत भारत सरकार 2.65 लाख करोड़ रुपए की घोषणाएं

नई दिल्ली। आज देश की वित्त मंत्री निर्मला सीमारमण ने प्रेस कांफ्रेंस देश की गिरती इकोनॉमी को 2.50 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का बूस्टर डोज दिया। प्रेस कांफ्रेंस में वित्त मंत्री ने 12 योजनाओं की घोषणाएं की। जिसके तहत 2.65 लाख करोड़ रुपए की योजनाओं का ऐलान किया गया है। यह प्रोत्साहन पैकेज सकल घरेलू उत्पाद के रूप में राष्ट्रीय सकल घरेलू उत्पाद का 15 फीसदी है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि प्रोडक्शन लिंक इंसेंटिव स्कीम में 10 चैंपियन कंपनियों को चुना गया है और इसमें करीब 1,46,000 रुपए का लाभ दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी स्कीम को 31 मार्च 2021 तक बढ़ा दिया गया है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि 'आत्मनिर्भर भारत रोजग़ार योजना' को लांच किया जा रहा है, ताकि नए रोजग़ार के सृजन को प्रोत्साहन दिया जा सके। ये योजना 1 अक्टूबर 2020 से लागू होगी। इस योजना के तहत जिस संस्था में 1,000 या उससे कम कर्मचारी हैं उसमें कर्मचारी के हिस्से का 12 फीसदी और काम देने वाले के भी भत्ते का 12 फीसदी का केंद्र सरकार योगदान देगी। जहां 1,000 से ज़्यादा कर्मचारी हैं वहां केवल कर्मचारियों का केंद्र सरकार 12 फीसदी योगदान देगी। ये अगले दो वर्ष तक लागू रहेगा।