Diwali 2020: दिवाली के दिन भूलकर भी नहीं करें ये 10 काम, वरना हो जाएंगे कंगाल

|

Published: 14 Nov 2020, 12:33 PM IST

हिंदू पंचांग के अनुसार, हर वर्ष कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि के दिन दिवाली का त्योहार मनाया जाता है। हिंदू धर्म में इसे सबसे बड़े त्योहार के रूप में मनाया जाता है। इस पर देशभर में दिवाली का त्योहार 14 नवंबर को यानी आज मनाया जा रहा है। दिवाली के दिन महालक्ष्मी का पूजन होता है।

हिंदू पंचांग के अनुसार, हर वर्ष कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि के दिन दिवाली का त्योहार मनाया जाता है। हिंदू धर्म में इसे सबसे बड़े त्योहार के रूप में मनाया जाता है। इस पर देशभर में दिवाली का त्योहार 14 नवंबर को यानी आज मनाया जा रहा है। दिवाली के दिन महालक्ष्मी का पूजन होता है। इस दिन लोग मां लक्ष्मी को खुश करने के लिए तरह-तरह के उपाय करते हैं। दिवाली के दिन कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है। इस ऐसा कोई काम नहीं करना चाहिए जिसे मां लक्ष्मी नाराज हो सकती है।

1.निश्चित क्रम में रखें मूर्ति
मूर्तियों को एक निश्चित क्रम में रखें। बाएं से दाएं भगवान गणेश, लक्ष्मी जी, भगवान विष्णु, मां सरस्वती और मां काली की मूर्तियां रखें। इसके बाद लक्ष्मण जी, श्रीराम और मां सीता की मूर्ति रखें।

2.पूजा के समय ताली ना बजाएं
लक्ष्मी की पूजा के समय तालियां नहीं बजानी चाहिए। आरती बहुत तेज आवाज में नहीं गाएं। कहा जाता है कि मां लक्ष्मी शोर से घृणा करती हैं। लक्ष्मी मां की अकेले पूजा ना करें। भगवान विष्णु के बिना उनका पूजन अधूरा माना जाता है।

3.ना काटें नाखून
दिवाली के दिन सुबह देर तक सोते ना रह जाएं। जल्दी उठें और पूजा-पाठ करें। दिवाली के दिन नाखून काटना, शेविंग जैसे कार्य नहीं किए जाते हैं।

4.साफ-सफाई का ध्यान रखें
धार्मिक शास्त्र के अनुसार, धन की देवी वहां वास करती हैं जहां सच्चाई, दया और गुण होते हैं। साफ-सफाई का ध्यान रखें। हमेशा अपने घर को साफ रखें।

 

यह भी पढ़े :— ये है दुनिया की सबसे अनोखी पहाड़ी, बताती है गर्भ में लड़का है या लड़की

5.दीपावली के 5 दिवसीय त्योहार में हर किसी का बजट गड़बड़ा सकता है, ऐसे समय में अपने मन को शांत रखकर त्योहार की खुशी का इजहार करें। इस दिन किसी से भी झगड़ा न करें।

6.दीपावली पर लक्ष्मी पूजन के साथ-साथ घर के बुजुर्गों का आशीर्वाद लेना अतिआवश्यक है अत: इस दिन जाने-अनजाने में भी किसी बुजुर्ग का अपमान न करें।

7.घी से जलाएं दीया
उत्तर-पूर्व दिशा में पूजा कक्ष होना चाहिए। घर के सभी सदस्यों को पूजा के दौरान उत्तर की ओर मुंह करके बैठना चाहिए। पूजा के दीए को घी से जलाएं। दीए 11, 21 या 51 की गिनती में होने चाहिए।

8.लाल रंग का प्रयोग करें
ज्यादा से ज्यादा लाल रंग का प्रयोग करें। दिया, कैंडल्स, लाइट्स और लाल रंग के फूलों का इस्तेमाल करें। दिवाली पूजा की शुरुआत विघ्नकर्ता भगवान गणेश की पूजा के साथ करें।

9.झगड़ा ना करें
मां लक्ष्मी शांतिप्रिय हैं इसलिए परिवार के सदस्यों के बीच झगड़ा नहीं होना चाहिए। घर पर शांति और प्रेम का माहौल बनाए रखें। अपने परिवार के सभी सदस्यों के साथ मिलकर मां लक्ष्मी जी की आरती करें।

10.मांस मदिरा से दूर रहें
दिवाली के दिन मांस और शराब-धूम्रपान इत्यादि से दूर रहना चाहिए। इस दिन हो सके तो सात्विक भोजन ग्रहण करें।