Latest News in Hindi

जितनी मात्रा में गांजा की जब्ती हुई उसी अनुपात में सभी को मिली सजा, दंपती सहित पांच तस्कर पर जुर्माना भी

By Satyanarayan Shukla

Sep, 12 2018 09:26:39 (IST)

गांजा का अवैध कारोबार करने वाले गिरोह के 5 सदस्यों को न्यायालय ने जब्त गांजा की मात्रा के आधार पर दंडित किया। गिरोह में दो महिलाएं भी शामिल है।

दुर्ग. गांजा का अवैध कारोबार करने वाले गिरोह के 5 सदस्यों को न्यायालय ने जब्त गांजा की मात्रा के आधार पर दंडित किया। गिरोह में दो महिलाएं भी शामिल है। भिलाई-तीन पुलिस और राजनांदगांव पुलिस ने तीन अलग अलग प्रकरण का अभियोग पत्र विशेष न्यायाधीश मसंूर अहमद के न्यायालय में पेश किया था। पुलिस ने कुल ८२ किलो ३४० ग्राम गांजा, ५० हजार नकद और एक कार जब्त किया था। इस प्रकरण में ३ आरोपियों को संदेह का लाभ देते हुए न्यायालय ने दोषमुक्त कर दिया। प्रकरण के मुताबिक पुरानी भिलाई टीआई मृत्युजंय पाण्डेय निगम चुनाव के दौरान ८ दिसंबर २०१६ को शांति व्यवस्था बनाए रखने गश्त कर रहे थे। इसी बीच सूचना मिली कि शिक्षित नगर चरोदा निवासी राजेश सूर्यवंशी ने अपने घर में गांजा छिपा कर रखा है। पुलिस ने चरोदा में रेड कार्रवाई की और गांजा जब्त किया। पूछताछ में खुलासा हुआ कि राजेश ने गांजा राजनांदगांव निवासी पुखराज सिंह से खरीदी है। पुलिस ने गिरोह का पर्दाफाश करने राजनांदगांव एसपी के सहयोग से पुखराज को कार समेत गिरफ्तार किया। कार में गांजा भरा हुआ था। पुखराज के बयान के आधार पर पुलिस मुख्य सरगना संदीप तिवारी को गांजा समेत गिरफ्तार किया।

पुलिस की दबिश को ऐसे समझे पहले राजेश को गिरफ्तार किया
पुरानी भिलाई पुलिस ने सबसे पहले शिक्षित कालोनी निवासी राजेश सूर्यवंशी को गिरफ्तार किया। राजेश ने घर में पलंग के नीचे प्लास्टिक के बोरे में १३ किलो ५०० ग्राम में गांजा छिपा कर रखा था। पुलिस ने राजेश सूर्यवंशी उसकी पत्नी पूर्णिमा समेत एक अन्य महिला सरिता को भी आरोपी बनाया।

राजेश ने पुखराज व चैतराम का नाम बताया
राजेश के बयान के आधार पर पुलिस तुलसीपुर रेलवे फाटक राजनांदगांव निवासी पुखराज सिंह के घर में दबिश दी। पुखराज कोहका निवासी चैतराम के घर गया हुआ था। पुलिस कोहका पहुंची तो दोनों कार से भागने का प्रयास कर रहे थे। हिरासत में लेकर तलाशी ली। कार से ५६ किलों २४० ग्राम गांजा व १० हजार नकद जब्त किया।

पुखराज ने संदीप से खरीदना बताया
पुखराज ने खुलासा किया वह संदीप के पास से गांजा खरीदा है। संदीप उसके पिता बीर सिंह के राजनादगांव के मकान में किराए से रहता है। पुलिस आरोपियों को लेकर वापस राजनांदगांव पहुंची और संदीप के घर छापा मारा। तब वहां भाऊराम सोनगढ़े व राकेश अग्रवाल बैठे थे। पुलिस ने इस वहां ४० हजार नकद और ३२ किलो ६०० ग्राम गांजा जब्त किया।

जाने किस आरोपी को कितनी सजा
पुखराज सिंह व चैतराम व संदीप तिवारी को १२-१२ साल दो-दो लाख रुपए जुर्माना
राजेश सूर्यवंशी व पूर्णिमा सूर्यवंश को ६-६ साल कारावास व २५-२५ हजार जुर्माना