उत्तराखंड BJP की बढ़ी मुश्किल, नई टीम का गठित करने में आ रही परेशानी

|

Published: 30 Jan 2020, 04:08 PM IST

Uttarakhand News: उत्तराखंड भाजपा (Uttarakhand BJP) के नेता अपने-अपने चहेतों को नई कार्यकारिणी में फिट करने के लिए देहरादून से लेकर दिल्ली तक दबाव बनाए हुए हैं...

(देहरादून,अमर श्रीकांत): उत्तराखंड भाजपा के नए अध्यक्ष बंशीधर भगत के लिए अपनी नई टीम का गठन करना सहज नहीं है। अलग-अलग धड़ों में बंटी उत्तराखंड भाजपा के नेता अपने-अपने चहेतों को नई कार्यकारिणी में फिट करने के लिए देहरादून से लेकर दिल्ली तक दबाव बनाए हुए हैं। जिस तरीके से नए अध्यक्ष पर वरिष्ठ नेताओं का दबाव है, उससे ऐसा लग रहा है कि उत्तराखंड भाजपा की नई कार्यकारिणी बड़ी होगी।

 

यह भी पढ़ें: इन मांगों को लेकर -24 डिग्री C तापमान में लोगों का प्रदर्शन, सर्दियों में देश से कट जाता है यह इलाका


पूर्व मुख्यमंत्री और महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी अध्यक्ष बंशीधर भगत पर लगातार दबाव बनाए हुए हैं। इधर, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए संगठन में अपने लोगों को जगह दिलाना चाहते हैं।

 

यह भी पढ़ें: BJP ने उमर अब्दुल्ला को दिया 'रेजर' का उपहार, सचिन पायलट ने की ऐसी खिंचाई होना पड़ा शर्मिंदा

माना जा रहा है कि हर गुट को खुश कर पाना अध्यक्ष बंशीधर भगत के लिए संभव नहीं है। अपनी नई टीम के गठन को लेकर पिछले 15 दिन के अंदर वे पार्टी के दर्जनभर वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठकें भी कर चुके हैं, लेकिन नई टीम के गठन को अंतिम रूप नहीं दे पा रहे हैं।

''नई टीम का गठन जल्द किया जाएगा। टीम में युवा वर्ग को तवज्जो देने की कोशिश की जा रही है।''
-बंशीधर भगत, अध्यक्ष, भाजपा

 

उत्तराखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में जनमत संग्रह को लेकर PDP नेता का बड़ा बयान, मिला है पद्म भूषण सम्मान