बैंकों की हालत सुधारने के लिए बड़ा कदम, 'ब्लैक लिस्टेड' खाताधारकों पर RBI की कड़ी नजर

|

Published: 20 Nov 2019, 04:47 PM IST

आरबीआई (RBI) ने स्पष्ट कहा है (Reserve Bank Of India) कि ऐसा कोई कदम बैंकों (Scam In Bank) द्वारा नहीं उठाया जाए जिससे (Bank Scam) घाटे का अंदेशा हो। सख्ती के साथ कर्ज की वसूली की जाए...

(देहरादून,अमर श्रीकांत): आरबीआई ने उत्तराखंड के घाटे में चल रहे सहकारी बैंकों की हालत को सुधारने के लिए जरूरी निर्देश दिए हैं। ताकि इन बैंकों की माली हालत को मजबूत बनाया जा सके। इस क्रम में ही ब्लैक लिस्टेड खाताधारकों पर खास नजर रखी जा रही है। आगामी मार्च 2020 तक सहकारी बैंकों को उच्च तकनीक से जोडऩे की भी व्यवस्था की जा रही है। ताकि हर लेन — देन की सूचनाएं खाताधारों को मोबाइल पर मिल सके।

 

Video: चुनावी पर्चा भरने पहुंचा हार्डकोर नक्सली, इस वजह से उठाए थे हथियार, सैकड़ों केस हैं दर्ज

 

सूत्रों के मुताबिक ब्लैक लिस्टेड खाताधारकों की पहचान का काम भी जल्द ही शुरू कर दिया जाएगा। ऐसे खाताधारक जो मोटी रकम बतौर कर्ज सहकारी बैंकों से ले चुके हैं। लेकिन एक या दो किश्त बैंक में जमा करने के बाद न ही मूलधन और न ही ब्याज सहकारी बैंकों में जमा कर रहे हैं। उनकी सूची तैयार की जाएगी। या फिर ऐसा भूखंड जिसे दोबारा बैंकों को दिखाकर कर्ज लिए गए हैं। ऐसे ग्राहकों की भी पहचान की जाएगी।

 

यह भी पढ़ें: बिखर रहा BJP का कुनबा, चुनाव से पहले बड़ी संख्या में दिग्गज नेताओं ने छोड़ी पार्टी


भरोसेमंद सूत्रों ने स्पष्ट किया कि अब पहले की तरह मूलधन या फिर ब्याज माफी को लेकर सहकारी बैंक निकट भविष्य में कोई स्कीम भी चलाने के पक्ष में नहीं हैं। समय पर किश्त नहीं जमा करने वाले खाताधारकों को राहत देने के क्रम में पिछले माह अक्टूबर में सहकारी बैंकों ने स्कीम भी चलाया है। लेकिन बैंकों को उतना लाभ नहीं मिल पाया है। साथ ही इस तरह की स्कीम को लेकर भी आरबीआई काफी सख्त है। आरबीआई ने स्पष्ट कहा है कि ऐसा कोई कदम बैंकों द्वारा नहीं उठाया जाए जिससे घाटे का अंदेशा हो। सख्ती के साथ कर्ज की वसूली की जाए। इसमें कहीं से भी कोई कोताही नहीं बरती जानी चाहिए।


यह भी पढ़ें: राहुल गांधी को राखी बांधती हैं यह विधायक, बड़े राजनीतिक घराने में होने जा रही है शादी


‘ सहकारी बैंक आरबीआई के मानकों को ध्यान में रखकर ही लेन देन कर रहे हैं। इन बैंकों को स्पष्ट निर्देश है कि आरबीआई के मानकों का हर हाल में पालन करें। घाटे में चल रहे बैंकों को उबारने के लिए प्लानिंग बनाई जा रही है। आने वाले दिनों में कोई भी बैंक घाटे में नहीं रहेगा।

डॉ.धन सिंह रावत ,सहकारिता मंत्री ,उत्तराखंड सरकार


उत्तराखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: Video: सब सोते रहे, कमरे में सैर करता रहा तेंदुआ, लोगों ने यूं बचाई जान