चीन और उत्तराखंड की सीमा पर अलर्ट, दुरुस्त की गई सर्च लाइट्स

|

Published: 09 Nov 2019, 08:11 PM IST

उत्तराखंड गृह विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक नेपाल और चीन से जुड़ी अंतरराष्ट्रीय सीमाओं (India Uttarakhand Border) पर विशेष रूप से चौकसी बरती जा रही है...

(देहरादून): चीन और उत्तराखंड से जुड़ी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर शनिवार को केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने दौरा किया। उसके बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से राज्य सरकार को विशेष संदेश भेजकर चौकसी बरतने के निर्देश जारी किए गए।

 

यह भी पढ़ें: अयोध्या मामले पर SC के फैसले पर ओवैसी ने उठाए सवाल, कहा- हमे खैरात में नहीं चाहिए 5 एकड़ जमीन

 

सूत्रों के मुताबिक एक दर्जन से ज्यादा सर्च लाइट जो पिछले कई माह से काम नहीं कर रहे थे, उनको तत्काल प्रभाव से दुरुस्त कर दिया गया। ताकि अंतरराष्ट्रीय सीमा क्षेत्र के इर्द—गिर्द पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था की जा सके। सूत्रों ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास दो दर्जन से ज्यादा पगडंडियों पर भी खास नजर रखी जा रही है। उल्लेखनीय है कि कई बार चीनी सैनिक उत्तराखंड में प्रवेश कर चुके हैं। इसलिए यहां की संवेदनशीलता को देखते हुए विशेष सतर्कता बरतने की सलाह दी गई है।

 

यह भी पढ़ें: Ayodhya Verdict: अयोध्या फैसले से पहले कांग्रेस की अहम बैठक, नेताओं को अलग-अलग राय ना देने के निर्देश


उत्तराखंड गृह विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक नेपाल और चीन से जुड़ी अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर विशेष रूप से चौकसी बरती जा रही है। कहीं भी तनाव की स्थिति नहीं है लेकिन एहतियात के तौर पर जिला प्रशासन को भी सतर्क किया गया है। केंद्रीय खुफिया एजेंसियां अपनी रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेज दी हैं। उत्तराखंड सरकार की ओर से आगामी दो तीन दिन के अंदर केंद्र को रिपोर्ट भेज दी जाएगी। उत्तराखंड के डीजीपी अनिल रतूड़ी के मुताबिक उत्तराखंड में कहीं भी तनाव नहीं है। सब कुछ सामान्य है। लेकिन हालात पर तगड़ी नजर रखी जा रही है।

उत्तराखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: अयोध्या विवाद: कांग्रेस ने किया SC के फैसले का स्वागत, कहा- मंदिर पर सियासत के द्वार बंद