पिथौरागढ़ उपचुनाव: उतार-चढ़ाव के बीच हुआ 47 प्रतिशत मतदान

|

Published: 25 Nov 2019, 09:42 PM IST

वोटरों ने नहीं दिखाया उत्साह, एक लाख 5 हजार से अधिक (Pithoragarh ByElection) वोटरों मेेंं से आधे आए ही नहीं...

 

(देहरादून): पिथौरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए हुए मतदान को लेकर मतदाताओं का उत्साह ठंडा रहा। इसके चलते 50 प्रतिशत से भी कम वोटिंंग हुई। सोमवार सुबह 8 बजे शुरू हुआ मतदान धीमे—धीमे आगे बढ़ा और शाम तक इसमें कोई खास बढ़ोतरी देखने को नहीं मिली।


सुबह 9 बजे बाद कुछ बूथों पर मतदाताओं की संख्या जरूर बढ़ी, लेकिन अधिकांश जगह मतदाता दो—तीन की संख्या में आकर वोट देकर जाते रहे। यह सिलसिला शाम तक कमोबेश ऐसे ही चलता रहा। विभिन्न दलों के पोलिंग एजेंट और अनेक जागरूक मतदाता, कम वोटिंग और लोगों में उदासीनता की बात दोहराते रहे। पिथौरागढ़ विधानसभा क्षेत्र में कुल 1,05,711 वोटर हैं, जिनमें 52871 पुरुष तथा 5284 महिला मतदाता शामिल हैं।

 

उपचुनाव के लिए पिथौरागढ$ विधानसभा क्षेत्र के 145 बूथों पर सुबह 8 से 9 बजे तक 4.59 प्रतिशत मतदान हुआ। पूर्वान्ह 11 बजे तक मतदान प्रतिशत बढ़कर 16.04 पहुंच गया। इसके बाद इसमेें कुछ इजाफा हुआ और अपराह्न एक बजे तक 27.2 प्रतिशत मतदाता मताधिकार का इस्तेमाल कर चुके थे। दो घंटे के अंतराल बाद अपराह्न 3 बजे तक 38.08 प्रतिशत मतदान दर्ज हुआ। तीन बजे तक मतदान करने वालों में 20791 पुरुष और 19460 महिला शामिल थीं। अपरान्ह तीन बजे बाद भी विभिन्न बूथों पर मतदाता वोट देने पहुंचे। शाम छह बजे तक अनेक बूथों से मतदान प्रतिशत का आंकड़ा नहीं पहुंचा था, लेेकिन अनुमान के अनुसार कुल मतदान 47 प्रतिशत पहुंचने की संभावना जताई गई है।


बता दें कि उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे प्रकाश पंत की मृत्यु के बाद यह सीट खाली हुई थी। भाजपा ने प्रकाश पंत की पत्नी चंद्रा पंत को टिकट दिया है जबकि कांग्रेस ने स्थानीय कार्यकर्ता अंजू लुंटी को उम्मीदवार बनाया था।