VIDEO STORY : पति की दीर्घायु के लिए किया वट पूजन, परिक्रमा लगाई

|

Published: 10 Jun 2021, 11:12 PM IST

पति की दीर्घायु एवं परिवार की सुख-शांति की कामना के साथ गुरुवार को बरगद का पूजन किया।

दतिया. पति की दीर्घायु एवं परिवार की सुख-शांति की कामना के साथ गुरुवार को बरगद का पूजन किया। इस दौरान महिलाओं ने बरगद के वृक्ष का पूजन कर परिक्रमा लगाई। नवविवाहिताओं के लिए वट सावित्री पूजन विशेष महत्व रखता है। इसे वर अमावस्या कहा जाता है। वट सावित्री पूजन ज्येष्ठ मास कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को किया जाता है। पौराणिक कथा के अनुसार सती सावित्री अपने सत्यवान की मृत्यू के उपरांत भी यमराज से उसके प्राण वापस ले आई थी तभी से वट सावित्री पर्व मनाया जाता है। वट सावित्री पूजन के शहर में विभिन्न स्थानों पर लगे बरगद के वृक्षों के नीचे पूजन के लिए महिलाओं की भीड़ नजर आई।