आकाशीय बिजली गिरने से एक की मौत, दो युवक नहीं आ पाए जद में

|

Published: 21 Jul 2020, 11:48 PM IST

आकाशीय बिजली गिरने से एक की मौत, दो युवक नहीं आ पाए जद में

One dead due to lightning fall, two youth could not come in JD

दमोह/ जबेरा. सिंग्रामपुर से एक किमी दूर जंगल में तेज बारिश व बादलों की गडग़ड़ाहट के बाद पेड़ की छांव में खड़े तीन युवकों में से एक की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई। यह तीनों भैंस के उपचार के लिए पेड़ की छाल तोडऩे जंगल गए थे।
जबेरा थाना क्षेत्र के करनपुरा गांव निवासी देवेंद्र धनगर (२२) की भैंस गड्ढे में गिर गई थी, जिसका एक पैर टूट गया था। गांव में किसी ने बताया कि सिंग्रामपुर के पास कुछ जड़ी वाले पेड़ लगे हैं, जिनके पत्ते व छाल से भैंस जल्दी ठीक हो जाएगी। यह युवा अपने गांव के धर्मेंद्र खरे के साथ सिंग्रामपुर पहुंचा वहां पर एक अन्य को साथ लेकर पेड़ पर चढ़कर पत्ते व छाल निकाल रहे थे, तभी तेज बारिश शुरू हो गई। तीनों बारिश से बचने एक पेड़ के नीचे खड़े हो गए। इसी दौरान गाज देवेंद्र धनगर पर गिरी। जो अचेत हो गया। जबकि दोनों साथी बाल-बाल बच गए। साथी धर्मेंद्र खरे ने बताया कि बादल की तेज गडग़ड़ाहट के साथ तेज चमक वाली रोशनी आंखों के सामने आती है उन सभी की आंखें बंद हो गई थी, जैसे आंख खुली तो देवेंद्र अचेत पड़ा था। जिसे जबेरा अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टर ने पंपिंग कर सांस वापस लौटाने का भरपूर प्रयास किया, लेकिन उसकी सांसें वापस लौट नहीं पाईं। जबेरा थाना पुलिस ने पहुंच कर शव का पंचनामा बना लिया है।