अंतिम संस्कार में जा रहा था परिवार, Road Accident में 3 लोग की मौत और तीन घायल

|

Updated: 02 Aug 2020, 05:34 PM IST

  • आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में रविवार सुबह 3 killed in road accident.
  • एचएसएल में crane accident में मारे गए दामाद की last rites ceremony में जा रहे थे।
  • सड़क किनारे खड़े ट्रक में car truck collision, तीन की मौके पर ही मौत।

विशाखापत्तनम। आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में रविवार को एक भयानक सड़क हादसा ( road accident ) हुआ, जिसे सुनकर सभी की सांसें रुक गईं। इस हादसे में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत ( 3 killed in road accident ) हो गई जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना की सबसे हैरानी वाली बात यह थी कि इन तीन लोगों की मौत तब हुई जब वे अपने किसी रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए जा रहे थे। लेकिन इन्हें क्या पता था कि यह उनकी जिदंगी का आखिरी दिन है।

Unlock 3.0 में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को लेकर केंद्र सरकार की बड़ी घोषणा, DGCA ने 31 अगस्त तक दिए आदेश

जानकारी के मुताबिक हादसे में मारे गए तीनों व्यक्ति आंध्र प्रदेश ( andhra pradesh news in Hindi ) के विशाखापत्तनम में एक रिश्तेदार के अंतिम संस्कार ( last rites ceremony ) में शामिल होने के लिए परिवार पश्चिम बंगाल के खड़गपुर से निकले थे। उस रिश्तेदार की शनिवार को हिंदुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड में हुई एक क्रेन दुर्घटना ( crane accident ) में मौत हो गई थी। यह परिवार जिस कार से जा रहा था, उस कार का एक्सीडेंट हो गया और मौके पर ही तीन लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि दरअसल उनकी कार कांची में एक खड़े ट्रक में जा घुसी।

दुर्घटना में मारे गए तीनों लोग एक ही परिवार के थे। क्रेन दुर्घटना में जिसकी मौत हुई वह इस परिवार का दामाद था। दामाद का नाम पी. भास्कर राव था, जिसे आखिरी बार देखने के लिए सभी जा रहे थे। कार में 48 साल के नागमणि, 23 साल की उनकी बहू लावण्या और 23 साल के रोउतु द्वारका की मृत्यु हो गई। कार रोउतु द्वारका चला रहा था।

IMAGE CREDIT: patrika

पुलिस का कहना है कि दुर्घटना तब हुई जब कार एक खड़े ट्रक में पीछे से जाकर टकरा ( car truck collision ) गई। कार की स्पीड इतनी तेज थी कि कार ट्रक में घुसी और सब तहसनहस हो गया।

सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को सूचना, मोबाइल ऐप के बाद चीनी शिक्षा के संस्थान भी बने खतरा, बड़ी कार्रवाई संभव

वहीं, हादसे में नागमणि के बेटे ईश्वर राव और राजशेखर और एक अन्य बहू पितिली घायल हो गए हैं और उन्हें सोमपेटा के सरकारी अस्पताल भर्ती कराया गया। हालांकि बाद में उन्हें श्रीकाकुलम स्थित एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया था। ईश्वर राव की हालत गंभीर बताई जा रही है।

शनिवार को एचएसएल में एक बड़ी क्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने से 11 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में एचएसएल के चार नियमित कर्मचारी और सात कॉन्ट्रैक्ट वाले कर्मचारी शामिल थे। भास्कर राव (35) लीड इंजीनियर्स के लिए काम कर रहे थे, जो कि ग्रीनफील्ड कंपनी द्वारा किराए पर ली गई दो फर्मों में से एक था।