भारत-पाक मैच में धोनी ने बनाई थी ऐसी रणनीति, टाई मैच को जीत गई थी टीम इंडिया

|

Updated: 17 Jul 2021, 02:38 PM IST

वर्ल्ड कप में जब भी भारत और पाकिस्तान के बीच मैच होता है तो क्रिकेट का रोमांच चरम पर होता है। ऐसे ही एक टी-20 वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मैच में ऐसा ही रोमांच देखने को मिला था।

टी20 विश्व कप में एक बार फिर से दर्शकों को भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला देखने को मिलेगा। इस टूर्नामेंट के लिए दोनों टीमों को एक ही ग्रुप में रखा गया ह। टी20 विश्व कप का आयोजन अक्टूबर—नवंबर में होने वाला है। पहले यह टूर्नामेंट भारत में होने वाला था लेकिन कोरोना की वजह से इसे यूएई में शिफ्ट कर दिया गया है। फैंस के बीच भारत—पाक के बीच क्रिकेट मैच को लेकर बहुत रोमांच रहता है। फैंस को अब टी20 वर्ल्ड कप में भारत—पाकिस्तान का मैच देखने को मिलेगा। आखिरी बार भारत और पाकिस्तान की टीम के बीच मैच वर्ष 2019 वर्ल्ड कप में मुकाबला हुआ था। इस मुकाबले को टीम इंडिया ने जीता था।

वर्ल्ड कप में पाकिस्तान से कभी नहीं हारा भारत
वर्ल्ड कप के इतिहास में भारतीय क्रिकेट टीम कभी भी पाकिस्तान से नहीं हारी है। वर्ल्ड कप में जब भी भारत और पाकिस्तान के बीच मैच होता है तो क्रिकेट का रोमांच चरम पर होता है। ऐसे ही एक टी-20 वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मैच में ऐसा ही रोमांच देखने को मिला था। वर्ष 2007 में टी20 वर्ल्ड कप के लीग मैच में दोनों टीमों के बीच मैच टाई हो गया था। ऐसे में उस मैच का फैसला बॉल आउट से किया गया था।

यह भी पढ़ें— सुरेश रैना ने बताया जब घुटने में चोट लगी थी तो कैसे धोनी ने उन्हें संभाला, शेयर किया पुराना किस्सा

बॉल आउट से हुआ था मैच का फैसला
वर्तमान में जब कोई मैच टाई हो जाता है तो उस मैच का निर्णय सुपरओवर से किया जाता है। वहीं टी20 वर्ल्ड कप में मैच टाई होने पर फैसला बॉल आउट' के तहत हुआ था। 14 सितंबर 2007 को टी-20 वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान के बीच पहला टी-20 मैच खेला गया था। यह मैच टाई हो गया था। इसके बाद मैच का नतीजा बॉल-आउट से हुआ था। 'बॉल आउट' में दोनों टीमों के पांच गेंदबाजों को गिल्लियां उड़ाने का टारगेट दिया गया था। इसमें जिस टीम के गेंदबाज ज्यादा बार गेंद से गिल्लियां गिरा देते उसे विजेता घोषित कर दिया जाता।

यह भी पढ़ें— IPL 2022: यूजर ने पूछा अगर इस बार CSK ने धोनी ने रिटेन नहीं किया तो? ब्रैड हॉग ने दिया जवाब

धोनी की रणनीति ने दिलाई जीत
बॉल आउट के दौरान टीम इंडिया की ओर से वीरेंद्र सहवाग, हरभजन सिंह और रॉबिन उथप्पा ने गेंद की गिल्लियां उड़ा दी थी। वहीं पाकिस्तान के गेंदबाज एक बार भी गेंद से गिल्ल्यिां नहीं उड़ा पाए और टीम इंडिया ने यह मैच 3-0 से जीत लिया। वहीं उथप्पा ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि 'जब भारत के गेंदबाज गेंद करते तो धोनी विकेटकीपर बन जाते थे, जिससे हमारे लिए गेंद से स्टंप को हिट करना आसान बन जाता था। हमें धोनी की ओर गेंद फेंकनी पड़ती जिससे हमें ज्यादा सफलता मिला था।'