कोहली की कप्तानी में सीमित ओवर क्रिकेट में लगभग खत्म हुआ अश्विन का कॅरियर! धोनी ने बनाया था स्टार

|

Updated: 21 Aug 2021, 10:55 AM IST

धोनी ने कई खिलाड़ियों की उनका कॅरियर बनाने में मदद की। इनमें से कुछ युवा खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दुनिया में अपना नाम किया।

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी सबसे सफल कप्तानों मे से एक रहे हैं। धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने कई बड़े मुकाम हासिल किए। धोनी की कप्तानी में ही भारतीय क्रिकेट टीम दो बार विश्व चैंपियन बनी। इसके साथ ही धोनी ने कई खिलाड़ियों की उनका कॅरियर बनाने में मदद की। इनमें से कुछ युवा खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दुनिया में अपना नाम किया। वहीं इनमें से एक क्रिकेटर ऐसा भी है,जिसका वनडे कॅरियर लगभग खत्म होने के कगार पर है। इस खिलाड़ी का नाम है रविचंद्रन अश्विन। अश्विन टेस्ट क्रिकेट के तो बहुत शानदार गेंदबाज हैं लेकिन कोहली की कप्तानी में अश्विन को सीमित ओवर क्रिकेट में बहुत कम मौके मिले हैं।

सीमित ओवर में नहीं मिल रहा मौका
टीम इंडिया के दिग्गज स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन टेस्ट क्रिकेट के बेहतरीन गेंदबाज हैं। टेस्ट क्रिकेट में उनकी गिनती दुनिया के सबसे बेहतरीन गेंदबाजों में होती है, लेकिन सीमित ओवर क्रिकेट में उनका कॅरियर लगभग खत्म सा हो गया है। अश्विन ने आखिरी बार सीमित ओवर मैच 2017 में खेला था। कोहली की कप्तानी में अश्विन को सीमित ओवर क्रिकेट में मौके नहीं मिल रहे हैं। टीम में जिस तरह हर एक जगह को लेकर खिलाड़ियों के बीच टक्कर है उससे ऐसा लगता नहीं कि अश्विन को दोबारा सीमित ओवर क्रिकेट में देखा जाएगा।

यह भी पढ़ें— अश्विन का खुलासा: 8-10 दिनों तक बिना सोए खेले थे IPL मैच, परिवार के बुरे समय को याद कर हुए भावुक

धोनी की कप्तानी में वनडे क्रिकेट में चमके थे अश्विन
रविचंद्रन अश्विन का कॅरियर बनाने में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी का बड़ा हाथ रहा है। धोनी ने आइपीएल में अश्विन को अपनी टीम चेन्नई सुपर किंग्स में कई मौके दिए। इसके बाद टीम इंडिया में भी उनकी एंट्री कराई। धोनी ने अपनी कप्तानी में अश्विन को कई वनडे मैच खेलने के मौके दिए। वहीं अश्विन ने भी धोनी की कप्तानी में हर एक फॉर्मेट में बेहतरीन प्रदर्शन किया। धोनी की अगुवाई में अश्विन ने कुल 78 वनडे मैच खेले। इनमें अश्विन ने 105 विकेट लिए। वहीं 42 टी-20 मैचों में उन्होंने 49 विकेट झटके थे। वहीं कोहली की कप्तानी में अश्विन को सीमित ओवर क्रिकेट में ज्यादा मौके नहीं मिले।

यह भी पढ़ें— IND VS ENG: अश्विन ने किया खुलासा, बुमराह के साथ बदजुबानी कर रहे थे एंडरसन

वनडे और टी20 में ये खिलाड़ी हैं कोहली की पसंद
टेस्ट क्रिकेट में तो रविचंद्रन अश्विन को कप्तान विराट कोहली ने कई मौके दिए हैं। टेस्ट क्रिकेट में अश्विन ने टीम इंडिया को बड़े-बड़े मैचों में जीत भी दिलाई है। वहीं वनडे और टी20 क्रिकेट में कोहली, अश्विन को अपनी टीम में जगह देना पसंद नहीं करते। वनडे और टी20 में कोहली, अश्विन की जगह युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को टीम में रखना पसंद करते हैं।