मैच फिक्सिंग पर आईसीसी की दो टूक, कहा-भारतीयों की वजह से ही ...

|

Updated: 19 Oct 2018, 02:47 PM IST

भारत में स्पोर्ट्स फिक्सिंग और सट्टेबाजी कोई नई चीज नहीं है । मोहम्मद अजहरुद्दीन से लेकर श्रीसंत तक का करियर फिक्सिंग और सट्टेबाजी के भूत ने ही निगला है । अब इसी क्रम में आईसीसी ने एक नया खुलासा किया है । आईसीसी द्वारा किये गए खुलासे को जानने के बाद भारतीयों के सर शर्म से झुक जाएंगे।

नई दिल्ली । भारत में क्रिकेट को एक धर्म की तरह माना जाता है, साथ ही कभी- कभी तो क्रिकेटर्स को भगवान का भी दर्जा दे दिया जाता है । लेकिन एक सच्चाई यह भी है की भारत में स्पोर्ट्स फिक्सिंग और सट्टेबाजी कोई नई चीज नहीं है । मोहम्मद अजहरुद्दीन से लेकर श्रीसंत तक का करियर फिक्सिंग और सट्टेबाजी के भूत ने ही निगला है । अब इसी क्रम में आईसीसी ने एक नया खुलासा किया है । आईसीसी द्वारा किये गए खुलासे को जानने के बाद भारतीयों के सर शर्म से झुक जाएंगे।

भारतीय मूल के बुकी ही गलत गतिविधियों में-
बीते दिनों आईसीसी की एंटी करप्‍शन यूनिट ने एक प्रेस रिलीज जारी कर श्रीलंका के पूर्व दिग्‍गज बल्‍लेबाज सनथ जयसूर्या को भ्रष्‍टाचार की विभिन्‍न धाराओं के तहत आरोपी बनाए जाने की जानकारी दी थी । इस मामले में जयसूर्या को आईसीसी ने 14 दिन का समय अपना जवाब दाखिल करने के लिए दिया है। हालांकि उनपर सीधे भ्रष्‍टाचार के आरोप न होकर ऐसे मामलों में जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप हैं।
आईसीसी की एंटी करप्‍शन यूनिट के प्रमुख एलेक्‍स मार्शल इन दिनों श्रीलंका में ही मौजूद हैं। उन्‍होंने ईएसपीएन क्रिकइनफो से बातचीत के दौरान कई चौकाने वाले खुलासे किए। उन्‍होंने कहा कि श्रीलंका क्रिकेट में काफी गहराई तक भ्रष्‍टाचार फैला हुआ है। श्रीलंका में लोकल लोगों के अलावा भारतीय बुकी काफी सक्रिय हैं। अगर पूरी दुनिया में क्रिकेट में भ्रष्‍टाचार की बात की जाए तो भारतीय मूल के बुकी ही सबसे ज्‍यादा गलत गतिविधियों में संलिप्त हैं।

2000 में हुए मैच फिंिक्सग प्रकरण का केंद्र था भारत-
आपको बता दें हाल में आईसीसी की एसीयू ने इंग्लैंड और श्रीलंकाई क्रिकेटरों से खेल से जुड़े सक्रिय भ्रष्ट व्यक्तियों के बारे में सूचना साझा की थी। मार्शल का यह खुलासा हालांकि हैरानी भरा नहीं है क्योंकि भारतीय सट्टेबाज 2000 मैच फिंिक्सग प्रकरण का केंद्र रहे थे। एलेक्‍स मार्शल ने साथ ही कहा कि मैं और मेरी टीम इस भ्रष्‍टाचार की तह तक जाना चाहते हैं और नए खुलासे करने के लिए ही श्रीलंका में हैं। किसी भी व्‍यक्ति या खिलाड़ी का नाम लिए बिना उन्‍होंने कहा कि इस मामले में आने वाले दिनों में कई बड़े नाम सामने आ सकते हैं। हमारे पास श्रीलंका क्रिकेट में भ्रष्‍टाचार की लगातार शिकायतें आ रही थी, जिसमें सिस्‍टम में भ्रष्‍टाचार के सुबूत मिले हैं । जिसके बाद हमने इस पर काम करना शुरू किया है। एलेक्‍स मार्शल ने कहा, ”श्रीलंका ऐसा देश है जहां पिछले 12 महीने में हमने सबसे ज्‍यादा जांच की है. इस लिस्‍ट में दूसरे नंबर पर जिम्‍बाब्‍वे है। हमारी नजर में क्रिकेट में भ्रष्‍टाचार संगठित अपराध की तरह है, जिसके कारण युवा क्रिकेटरों का भविष्‍य प्रभावित हो रहा है।

Related Stories