Latest News in Hindi

जीत के जश्न से दूर रहे आदिल रशीद और मोईन अली, वजह जान आप ही कहेंगे खिलाड़ी हो तो ऐसा

By PRABHANSHU RANJAN

Sep, 12 2018 02:28:47 (IST)

4 -1 की जीत के बाद अंग्रेजी टीम ने ट्रॉफी जीतने के बाद इंग्लिश टीम के नौ खिलाड़ियों ने शैम्पेन की धार में खूब मस्ती की। लेकिन दो खिलाड़ी इस सेलिब्रेशन से कटे-कटे से दिखें।

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के आखिरी मैच को मेजबान इंग्लैंड ने 118 रनों के विशाल अंतर से जीत लिया है। सीरीज में मिली 4 -1 की जीत के बाद अंग्रेजी टीम ने खूब मजे किये। लेकिन सुर्ख़ियों में टीम के दो खिलाड़ी बने हुए हैं। ट्रॉफी जीतने के बाद इंग्लिश टीम के नौ खिलाड़ियों ने शैम्पेन की धार में खूब मस्ती की। लेकिन दो खिलाड़ी इस सेलिब्रेशन से कटे-कटे से दिखें। वजह यह बताई जा रही है की वो दोनों खिलाड़ी मुस्लिम हैं, इसलिए शैम्पेन के साथ इस सेलिब्रेशन में शरीक नहीं हो पाएं।

दो खिलाड़ी कटे-कटे से दिखें -
जी हां ! भारत और इंग्लैंड के बीच लंदन में खेले गए पांचवें टेस्ट मैच को मेजबान इंग्लैंड ने 118 रनों के अंतर से जीत लिया था। इस जीत के साथ ही इंग्लैंड ने इस सीरीज को 4-1 के अंतर से अपने नाम किया। चौथी पारी में 464 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 345 रन बना कर ऑल आउट हो गई। इंग्लैंड को आखिरी सफलता जेम्स एंडरसन ने मोहम्मद शमी को आउट करते हुए दिलाई। शमी के विकेट के साथ ही जेम्स एंडरसन क्रिकेट की दुनिया के सबसे सफल तेज गेंदबाज बन गए। उन्होंने आस्ट्रेलिया के दिग्गज तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा के 563 विकेटों के रिकॉर्ड को तोड़ दिया। टीम को मिली इस जीत के बाद प्लेयिंग 11 के नौ खिलाड़ी तो ट्रॉफी के साथ नाच-गा कर खूब मस्ती कर रहे थें, लेकिन दो खिलाड़ी काफी कटे-कटे से दिखें।

धर्म के कारण शैम्पेन से परहेज -
इंग्लैंड टीम ने जीत के बाद शैम्पेन के साथ इस जीत को सेलिब्रेट किया। इंग्लैंड टीम के प्लेयिंग 11 के नौ खिलाड़ी जहां जीत कि ख़ुशी को शैम्पेन की धार के साथ मनाते हुए दिखें तो। मोईन अली और आदिल रशीद ने शैम्पेन से खुद को दूर ही रखा। वैसे यह पहला मौक़ा नहीं जब इन दोनों खिलाड़ियों ने शैम्पेन के साथ होने वाले सेलिब्रेशन में शरीक होने से मना किया हो। इसके पहले भी कई सीरीज में ऐसा ही देखने को मिला है, जब जीत के बाद इन दोनों मुस्लिम खिलाड़ियों ने ऐसा किया है। मोईन अली से जब एक बार इस बारे में पूछा गया था तो उन्होंने साफ़ बताया था कि उनके धर्म में शैम्पेन को गलत बताया गया है। इसलिए जब टीम इसके साथ सेलिब्रेट करती है तो अली इस से बचते हैं। लेकिन टीम के लिए और टीम की जीत के साथ मोईन अली हमेशा खड़े हैं।

बढ़ जाती है ऐसे खिलाड़ियों की इज्जत-

जब भी खेल के मैदान में कोई क्रिकेटर इस तरीके का व्यवहार करता है, तो प्रशंसकों की नजर में उनकी इज्जत और बढ़ जाती है। बता दें कि मोईन अली और आदिल रशीद के साथ-साथ अन्य देशों की ओर से खेलने वाले क्रिकेट खिलाड़ियों ने भी पहले ऐसा किया है। दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज हाशिम अमला ऐसे मौके पर खुद अलग हो जाया करते हैं। रमजान के महीनों में भी मुस्लिम क्रिकेटर सार्वजनिक तौर पर कुछ भी खाने-पीने से परहेज करते है।

Related Stories