भारत के पास तीनों प्रारूपों में आस्ट्रेलिया को हराने का अच्छा मौका : लक्ष्मण

|

Published: 20 Nov 2020, 07:19 PM IST

—वीवीएस लक्ष्मण ( VVS Laxman ) का कहना है कि कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया, आस्ट्रेलिया (Australia) में तीनों प्रारूपों में जीतने में सक्षम है।
—भारतीय टीम (Team India) 27 नवंबर को सिडनी में पहले वनडे मैच से आस्ट्रेलिया (Australia) में अपने अभियान की शुरुआत करेगी।
—भारत ने पिछली बार जब आस्ट्रेलिया का दौरा किया था तो उसने 12 प्रयासों के बाद 71 साल बाद आस्ट्रेलिया की धरती पर पहली टेस्ट सीरीज जीती थी।

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ( VVS Laxman ) का मानना है कि विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी वाली भारतीय टीम के पास तीनों प्रारूपों में आस्ट्रेलिया (Australia) को हराने का बहुत अच्छा मौका है। भारतीय टीम 27 नवंबर को सिडनी में पहले वनडे मैच से आस्ट्रेलिया में अपने अभियान की शुरुआत करेगी। भारत ने पिछली बार जब आस्ट्रेलिया का दौरा किया था तो उसने 12 प्रयासों के बाद 71 साल बाद आस्ट्रेलिया (Australia) की धरती पर पहली टेस्ट सीरीज जीती थी।

MS Dhoni की बेटी Ziva का क्यूट वीडियो वायरल, अब तक देख चुके हैं लाखों लोग

 

लक्ष्मण ( Laxman) ने कहा, 'मुझे लगता है कि भारत के पास तीनों प्रारूपों में सीरीज जीतने का अच्छा मौका है। जिस तरह से दौरे कार्यक्रम की योजना बनाई गई है, वह अच्छा है। यह भारत के पक्ष में है। यह भारत के पक्ष में काम करता है। यही वजह है कि हम 27 नवंबर से सीमित ओवरों की सीरीज (तीन वनडे और तीन टी 20) के साथ इसकी शुरुआत कर रहे हैं। उन्होंने साथ ही कहा कि आईपीएल (IPL 2020) का इस सीरीज पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में होगी भारतीय टीम की कड़ी परीक्षा: पोटिंग

लक्ष्मण ने कहा, आईपीएल किसी भी अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट से अलग है। जिस तरह की प्रतियोगिता आप देखते हैं और जिस गुणवत्ता के खिलाड़ी के साथ या उसके खिलाफ खेलते हैं। इसलिए, सभी खिलाड़ी शानदार लय में हैं और मुझे यकीन है कि यह उनके उनके अनुरूप होगा। मुझे लगता है कि इससे केवल फायदा होगा। हां, वर्कलोड एक मुद्दा हो सकता है, लेकिन मुझे लगता है कि इसका असर खिलाड़ियों पर नहीं होना चाहिए, क्योंकि आईपीएल फाइनल और 27 नवंबर को खेले जाने वाले पहले वनडे के बीच 16 दिनों का लंबा अंतराल हो गया है। मुझे यकीन है कि वे अच्छी तरह से उबर रहे हैं और टीम प्रबंधन तथा कोचिंग सपोर्ट स्टाफ बेहद पेशेवर तरीके से योजना बना रहे हैं, ताकि सभी खिलाड़ी वनडे मैच से पहले तक तरोताजा हो सके।

रोहित शर्मा का टीम में ना होना विपक्षी टीम के लिए अच्छी बात : मैक्सवेल

पूर्व बल्लेबाज का मानना है कि 53 दिनों तक आईपीएल खेलने के बाद भी खिलाड़ी थके हुए नहीं हैं और उन्हें दौरे की शुरुआत को लेकर कोई समस्या नहीं है। उन्होंने कहा, सभी खिलाड़ी पेशेवर हैं और उन्होंने अपनी फिटनेस पर काफी काम किया है। माना कि आईपीएल दो महीने का लंबा टूर्नामेंट था, लेकिन अब इन मैचों के लिए फिट होने के लिए उन्हें पर्याप्त समय मिला है। अच्छी बात यह है कि आईपीएल यूएई में हुआ था और इससे खिलाड़ियों को ज्यादा यात्रा नहीं करनी पड़ी। इसलिए मुझे नहीं लगता कि वे थके होंगे।

Flashback: जब सचिन ने हॉग से कहा था, ऐसा फिर कभी नहीं होगा

यह पूछे जाने पर कि चूंकि आप पिछली पीढ़ी से हैं और वर्तमान खिलाड़ी आपसे बहुत छोटे हैं, तो क्या आपको लगता है कि ये खिलाड़ी भी उसी तरह का अनुभव हासिल करेंगे, क्योंकि भारत को पहले छोटे प्रारूप में और फिर टेस्ट मैच में खेलना है। लक्ष्मण ने कहा, मुझे यकीन है कि यह पीढ़ी उसी तरह से मबजूत होगी, खासकर जब से टी20 क्रिकेट शुरू हुआ है। जब आप सीमित ओवरों के क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तो आप उस आत्मविश्वास को टेस्ट मैच क्रिकेट में ले जाते हैं। उन्हें केवल एक चीज करना होगा और वो यह कि जब टेस्ट मैच शुरू होता है, तो मानसिक समायोजन और अधिक धैर्य दिखाने के जरूरत होती है।

पृथ्वी शॉ बने लड़की तो शिखर धवन ने टी-शर्ट उतार बाहों में भरकर किया ऐसा धांसू डांस, वीडियो वायरल

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि इन खिलाड़ियों के दिमाग में यह जरूर होगा कि पिछली बार आस्ट्रेलिया दौरे पर क्या हुआ था। हमने वनडे और 12 प्रयासों के बाद 71 साल बाद आस्ट्रेलिया की धरती पर पहली टेस्ट सीरीज जीती थी। इससे खिलाड़ियों का आत्मविश्वास काफी ऊंचा होगा।