IND vs ENG: गावस्कर ने कहा-टीम इंडिया की आलोचना करने से पहले सही चीजों का पता लगाएं

|

Published: 12 Sep 2021, 01:39 PM IST

ईसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टॉम हैरिसन ने भी टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री पर टीम में कोरोना फैलाने का आरोप लगाया था। वहीं माइकल वॉन ने भी कहा कि यह सब पैसे और आईपीएल को फायदा पहुंचाने के लिए किया गया है।

भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का पांचवां मैच रद्द होने के बाद से ही इस पर लगातार चर्चा हो रही है। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने कहा था कि भारतीय खिलाड़ियों ने मैच खेलने से मना कर दिया। वहीं इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टॉम हैरिसन ने भी टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री पर टीम में कोरोना फैलाने का आरोप लगाया था। दरअसल, रवि शास्त्री कुछ दिन पहले लंदन में बुक लॉन्च कार्यक्रम में शामिल हुए थे। इसके बाद वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी कहा कि यह सब पैसे और आईपीएल को फायदा पहुंचाने के लिए किया गया है। अब टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा है कि पांचवें टेस्ट मैच की आलोचना करने से पहले लोगों को सही चीजों का पता लगा लेना चाहिए।

रिपोर्ट पर उठाए सवाल
सुनील गावस्कर ने एक मीडिया हाउस से बात करते हुए कहा कि बुक लॉन्च के समय कोरोना हुआ, इसका किसी को कैसे पता चलेगा। गावस्कर का कहना है कि जब खिलाड़ियों का टेस्ट किया गया तो सबकी रिपोर्ट निगेटिव थी। मैच से पहले भी खिलाड़ियों की कोरोना जांच निगेटिव आई थी। जब टीम इंडिया का कोई खिलाड़ी पॉजिटिव नहीं था तो समस्या क्या थी। साथ ही गावस्कर ने उन रिपोर्ट पर सवाल उठाए जिनमें कहा जा रहा था कि टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने मैच खेलने से इंकार कर दिया। गावस्कर ने कहा कि यह रिपोर्ट केवल अंग्रेजी अखबारों में है, वे कभी भारतीय टीम के बारे में अच्छा नहीं बोलेंगे और न ही लिखेंगे। वे हमेशा उन्हें ही जिम्मेदार ठहराएंगे, कृपया पता लगाएं कि सच्चाई क्या है फिर उंगली उठाएं।

यह भी पढ़ें— IND vs ENG: किसके पक्ष में जाएगा पांचवां टेस्ट मैच? ईसीबी ने फैसला करने के लिए ICC को लिखी चिट्टी

'टीम इंडिया 3-1 से जीतती सीरीज'
सुनील गावस्कर ने कहा कि टीम इंडिया के खिलाड़ियों की पांचवे टेस्ट मैच में खेलने से इंकार करने की संभावना कम है। गावस्कर का कहना है कि इस सीरीज में भारत 2-1 से आगे था और सिर्फ एक मैच बचा था। साथ ही उनका कहना है कि टीम इंडिया 11 साल बाद इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज करने उतरती और 3-1 की जीत के साथ इसे समाप्त करती।

यह भी पढ़ें— IND vs ENG: अंतिम टेस्ट मैच को लेकर BCCI ने ईसीबी के सामने रखा महत्‍वपूर्ण प्रस्‍ताव, भविष्य में खेला जा सकता है यह मैच

टीम के खिलाड़ियों ने काफी मेहनत की
इसके साथ ही सुनील गावस्कर ने कहा कि हमारी टीम के खिलाड़ियों ने सीरीज में 2-1 से बढ़त बनाने के लिए काफी मेहनत की। मैनचेस्टर में भारतीय गेंदबाजों को मदद मिलती, वे क्यों नहीं खेलना चाहेंगे? वे मैच खेलना चाहेंगे क्योंकि वे सीरीज 3-1 से जीत सकते हैं। इसलिए मैं कभी नहीं मानूंगा कि भारतीय खिलाड़ियों ने मैनचेस्टर टेस्ट में खेलने से मना कर दिया।