IND vs ENG, 2nd Test: कोहली ने दिए संकेत, दूसरे टेस्ट से भी बाहर रहेंगे अश्विन, जडेजा अच्छी फॉर्म में

|

Updated: 12 Aug 2021, 01:08 AM IST

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने दूसरे टेस्ट मैच से पहले बताया कि जडेजा अच्छी फॉर्म में हैं। पिछले मैच में उन्होंने रन भी बनाए थे। इसलिए उन्हें दूसरे टेस्ट में भी मौका मिलेगा।

 

नई दिल्ली। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने संकेत दिया है कि गुरूवार से होने वाले दूसरे टेस्ट मुकाबले में भी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandra ashwin) को बाहर रखा जा सकता है। इस बीच, चोटिल तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) जिन्हें पिछले टेस्ट में शामिल किया गया था वह दूसरे टेस्ट में शामिल नहीं होंगे। अश्विन ने हाल के समय में बल्ले और गेंद से अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने इस साल फरवरी में चेन्नई में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे टेस्ट में शतक जड़ा था।

यह खबर भी पढ़ें:—IPL 2021: दूसरे चरण से पहले दिल्ली कैपिटल्स देगी ऋषभ पंत को दिया बड़ा झटका, कप्तानी लगी दांव पर

जडेजा अच्छी फॉर्म में
कोहली ने दूसरे टेस्ट की पूर्व संध्या पर कहा, अच्छी बात यह है कि जडेजा ने पहले टेस्ट में रन बनाए और यकीनन वह दूसरे मैच में भी होंगे। उनके रहने से निचले क्रम में बल्लेबाजी मजबूत होगी। उन्होंने कहा, शार्दुल से बल्लेबाजी क्षमता मजबूत होती लेकिन जैसा कि मैंने कहा है कि बल्लेबाजी में हमारी स्थिति अच्छी है क्योंकि चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे और मैं हूं जबकि रोहित शर्मा और लोकेश राहुल ने पहले टेस्ट में बेहतर किया था। हम बल्लेबाजी यूनिट में सही है और मुझे नहीं लगता कि शार्दुल के नहीं खेलने पर हमें एक बल्लेबाज की जरूरत है। 32 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा है कि टीम की प्राथमिकता विपक्षी टीम के 20 विकेट गिराना है।

यह खबर भी पढ़ें:—IND vs ENG :चोट के कारण पूरी सीरीज से बाहर हुए स्टुअर्ट ब्रॉड, एंडरसन के खेलने पर संशय, साकिब महमूद को बुलाया

टीम का संतुलन सबसे जरूरी
कोहली ने कहा, हमारे लिए सही संतुलन बनाना जरूरी है। लेकिन अगर शार्दुल नहीं खेल रहे हैं तो हम इस चीज पर ध्यान केंद्रित करेंगे कि 20 विकेट कैसे लिए जाएं। हम पहले टेस्ट की चीजों से खुश हैं। कप्तान ने कहा कि चार गेंदबाज यह सुनिश्चित करते हैं कि लगातार दबाव बना रहे। कोहली ने कहा, चार तेज गेंदबाज रहने का मतलब है कि आप हर सीजन में दबाव बना सकते हैं। चार गेंदबाजों के संयोजन में आपको देखना पड़ता है कि कौन सा गेंदबाज आपको ब्रेकथ्रू दिला सकता है और आप किसे प्राथमिकता देंगे।