मेंस क्रिकेट लीग में मां-बेटे की जोड़ी ने किया कमाल, खेली 143 रनों की साझेदारी कर बनाया रिकॉर्ड

|

Updated: 26 May 2021, 10:45 AM IST

इंग्‍लैंड की पूर्व क्रिकेटर एरेन ब्रिंडल ने इंग्लैंड के लिंकन एंड डिस्ट्रिक्‍ट लीग में अपने 12 साल के बेटे हैरी ब्रिंडल के साथ मिलकर मैच में ओपनिंग की।

क्रिकेट के खेल में कई बार ऐसे रिकॉर्ड बन जाते हैं, जिनके बारे में किसी ने सोचा भी नहीं होता। ऐसा ही कमाल एक मां बेटे की जोड़ी ने किया। अब इनकी बल्लेबाजी के चर्चे पूरी दुनिया में हो रहे हैं। मां-बेटे की इस जोड़ी ने यह कारनामा इंग्लैंड के एक लीग मैच में किया। दरअसल, इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम की पूर्व खिलाड़ी ऐरन ब्रिंडल ने क्रिकेट से रिटायरमेंट के बावजूद अपने नाम एक अनोखा इतिहास लिख दिया है। ब्रिंडल ने एक क्लब मैच में अपने 12 साल के बेटे के साथ ओपनिंग करते हुए नाबाद 143 रनों की साझेदारी की।

मां-बेटे की साझेदारी
इंग्‍लैंड की पूर्व क्रिकेटर एरेन ब्रिंडल ने इंग्लैंड के लिंकन एंड डिस्ट्रिक्‍ट लीग में अपने 12 साल के बेटे हैरी ब्रिंडल के साथ मिलकर मैच में ओपनिंग की। इन दोनों ने मिलकर नाबाद 143 रन की शानदार पारी खेली। लिंकन एंड डिस्ट्रिक्‍ट लीग में एरेन और हैरी ओंबी सीसी ट्रोजंस के लिए खेल रहे थे। इनकी जोड़ी ने नेटलहम क्रिकेट एकेडमी XI के खिलाफ 142 रनों के लक्ष्‍य का बिना विकेट गंवाए बना लिया। ब्रिंडल ने 101 गेंदों में 94 रनों की पारी खेली और उनके बेटे हैरी ने 32 रनों की पारी खेली। इतना ही नहीं उनके बेटे हैरी ने 4 विकेट भी लिए।

यह भी पढ़ें— कौन-से देश की क्रिकेट टीम के कप्तान को मिलती है सबसे ज्यादा सैलेरी?, जानिए सभी टीमों का हाल

ब्रिंडल का इंटरनेशनल क्रिकेट कॅरियर
वहीं एरेन ब्रिंडल के इंटरनेशनल कॅरियर की बात करें तो उनका कॅरियर काफी शानदार रहा है। उन्होंने 132 इंटरनेशनल मैच खेले। इनमें 2,852 रन बनाए है। ब्रिंडल तीन तीन बार उस इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम का हिस्सा रही है, जिन्होंने ऐशज जीता है।इसके साथ ही एरेन सबसे युवा इंटरनेशनल कप्‍तान भी रही हैं।

यह भी पढ़ें— क्रिकेट छोड़ने के बाद आर्थिक तंगी से गुजर रहा यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर, कर रहा कारपेंटर का काम

पुरुषों के सेमी प्रोफेशनल मैच में लगाया था शतक
एरेन एक बेहतरीन बल्लेबाज हैं। वर्ष 2011 में एरेन ब्रिंडल ने एक अनोखा रिकॉर्ड बनाया था। दरअसल, ब्रिंडल ने 2011 में पुरुषों के सेमी प्रोफेशनल क्रिकेट में शतक लगाया था। ऐसा करने वाली एरेन पहली महिला खिलाड़ी बनीं। उसी साल अक्‍टूबर में उन्‍होंने इंग्‍लैंड के लिए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपना पहला शतक लगाया था।