दीवान माधोसिंह का शोभायात्रा के साथ किया स्वागत, महिलाओं ने गाए मंगल गीत, बैण्ड की बिखरी मधुर धुनें

|

Published: 27 Feb 2021, 08:03 PM IST

दीवान माधोसिंह का शोभायात्रा के साथ किया स्वागत
- महिलाओं ने गाए मंगल गीत, बैण्ड की बिखरी मधुर धुनें

चेन्नई. सीरवी समाज के धर्मगुरु एवं राजस्थान के पूर्व चिकित्सा मंत्री माधोसिहं दीवान के यहां चेन्नई पहुंचने पर तंडियारपेट में सीरवी समाज के लोगों ने स्वागत किया। इस मौके पर बधावणा किया गया। महिलाओं ने उनकी आरती उतारी। इस अवसर पर शोभायात्रा निकाली गई जिसमें महिलाएं, युवतियां व बालिकाएं सिर पर कलश लेकर चल रही थी। दीवान माधोसिंह एक रथ पर सवार थे। इस दौरान रास्ते में प्रवासियों एवं सीरवी समाज के लोगों ने पुष्प वर्षा से दीवान का स्वागत किया। इस दौरान बैण्ड की मधुर स्वरियां वातावरण को गुंजायमान कर रही थी। सीरवी समाज के लोगों ने अपने धर्मगुरु से आशीर्वाद लिया। उनके स्वागत के लिए चेन्नई महानगर के विभिन्न इलाकों से समाज के लोग पहुंचे थे। तंडियारपेट निवासी रामलाल सीरवी ने बताया कि दीवान माधोसिंह से आशीर्वाद के लिए दिनभर सीरवी समाज एवं प्रवासी समाज के लोग पहुंचे। इस दौरान उन्हें तमिलनाडु में प्रवासियों की ओर से किए जा रहे सामाजिक एवं धार्मिक सेवा कार्यों के बारे में जानकारी दी।
सीरवी समाज के धर्मगुरु माधोसिहं दीवान ने कहा कि आईमाता के दिए संदेश के अनुसार 11 नियम का पालन को जीवन में महत्वपूर्ण बताते हुए मानव जीवन के कल्याण के लिए अहम बताया। उन्होंने जीवन में परोपकार के महत्व को अपनाकर सेवा कार्य में आगे आने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इन्सान को कर्मों का अच्छा या बुरा फल यहीं भुगतना है। उसके कर्मों का प्रभाव उसकी संतानों पर पड़ता है। उन्होंने कहा कि सीरवी समाज का इतिहास गौरवशाली रहा है। सभी समाजों को साथ लेकर चलने वाला समाज है।