School Reopening: शिक्षा मंत्रालय से मिली अनुमति, जल्द खुलेंगे जवाहर नवोदय विद्यालय

|

Published: 04 Feb 2021, 06:09 PM IST

  • Javahar Navoday Vidhyalay Reopening Date:
  • शिक्षा मंत्रालय ने जवाहर नवोदय विद्यालय खोलने की अनुमति दे दी है।
  • संबंधित राज्य सरकारों से अनुमति मिलने पर पढाई फिर से शुरू कर दी जाएगी।

Javahar Navoday Vidhyalay Reopening Date: कोरोना महामारी के चलते बंद चल रहे विद्यालयों को फिर से खोला जा रहा है। बहुत से राज्यों ने बोर्ड कक्षाओं के अतिरिक्त छोटी कक्षा के विद्यार्थियों के लिए भी शिक्षण व्यवस्था शुरू कर दी है। अब शिक्षा मंत्रालय ने जवाहर नवोदय विद्यालय खोलने की भी अनुमति दे दी है। मंत्रालय की ओर से जारी गाइडलाइन के मुताबिक 10वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू की जा सकती हैं लेकिन इसके लिए संबंधित राज्य सरकार की अनुमति बहुत जरूरी है। जवाहर नवोदय विद्यालय खोलने के लिए मंत्रालय की ओर से एक मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) भी तैयार की गई है। यह एसओपी केंद्रीय गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए तैयार की गई है। विद्यार्थियों को कोरोना महामारी से बचने के लिए गाइडलाइन का पालन करना अनिवार्य करना होगा।

Read More: IGNOU January 2021 सेशन के लिए अब 15 फरवरी तक कर सकते हैं री-रजिस्ट्रेशन, पढ़ें पूरी डिटेल्स

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ''जवाहर नवोदय विद्यालय ने विद्यार्थियों के लिए क्लासेज खोलने की तैयारी कर ली है। क्लासेज को शुरू करने के लिए अभिभावकों की सहमति भी ली गई है। अन्य विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन क्लासेज अभी जारी रखी गई है। स्कूल की कोशिश है कि किसी भी छात्र-छात्रा को शैक्षणिक स्तर पर नुकसान ना हो। विद्यार्थियों को बुलाए जाने के साथ राज्य सरकार की ओर से जारी निर्देशों का भी सख्ती से पालन किया जाएगा।

Read More: सीबीएसई 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की डेटशीट जारी, एक ही क्लिक में यहां से करें डाउनलोड

शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी एसओपी के आधार पर प्रत्येक स्कूल राज्य सरकार के निर्देशों के आधार पर और जिला प्रशासन के साथ बैठ कर अपने दिशा-निर्देश तय करेंगे। चूंकि ये विद्यालय आवासीय हैं, ऐसे में मंत्रालय पूरी सतर्कता बरत रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो जल्द ही अन्य कक्षाओं कोभी शुरू किया जा सकता है। छात्रों की सुरक्षा को देखते हुए मंत्रालय ने सभी स्कूलों से कहा है कि अपने स्तर पर भी एहतियात बरतें और खुद का भी सुरक्षा मानक तैयार करें।