12 वीं के बाद करें एचसीएल का TechBee कोर्स, संवारें भविष्य

|

Published: 12 Jun 2020, 06:51 PM IST

एचसीएल का टेकबी TechBee कार्य-एकीकृत उच्च शिक्षा कार्यक्रम है जो सरकार के 'कौशल भारत' मिशन में योगदान देता है। 12वीं पास छात्रों के लिए एचसीएल का यह कोर्स प्रारंभिक कॅरियर कार्यक्रम का हिस्सा है।

एचसीएल का टेकबी TechBee कार्य-एकीकृत उच्च शिक्षा कार्यक्रम है जो सरकार के 'कौशल भारत' मिशन में योगदान देता है। 12वीं पास छात्रों के लिए एचसीएल का यह कोर्स प्रारंभिक कॅरियर कार्यक्रम का हिस्सा है। यह छात्रों को भविष्य के लिए कौशल तैयार कर आईटी इंजीनियरिंग नौकरियां प्रदान करता है। कार्यक्रम एचसीएल में प्रवेश स्तर के आईटी नौकरियों के लिए छात्रों को तकनीकी और पेशेवर रूप से तैयार करता है। सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए उम्मीदवार 12 महीने के प्रशिक्षण से गुजरते हैं। एचसीएल में काम करते हुए, छात्र डिग्री कार्यक्रमों में भी दाखिला ले सकते हैं, जो बिट्स पिलानी और एसएटीआरए विश्वविद्यालय जैसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों द्वारा प्रस्तुत किया जाता है।

मिल रही छात्रवृत्ति
इच्छुक छात्र जो कार्यक्रम के लिए नामांकन करना चाहते हैं वे एक प्रवेश परीक्षा से गुजरते हैं। कार्यक्रम कक्षा प्रशिक्षण और नौकरी के प्रशिक्षण का एक संयोजन प्रदान करता है, जिससे उन्हें कार्यक्रम के पूरा होने पर आत्मनिर्भर बनाया जाता है। प्रशिक्षण की पूरी अवधि के दौरान, नामांकित छात्रों को प्रति माह 10,000 रुपए की छात्रवृत्ति भी दी जाती है।

छात्रों को अच्छी जगह से जॉब के ऑफर आते हैं

एचसीएल देश की प्रमुख आईटी कंपनी है। यहां से कोर्स करने पर पहले महीने से छात्रवृत्ति शुरू हो जाती है। साथ ही देश की प्रतिष्ठित तकनीकी संस्थानों और विश्वविद्यालय से डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। प्रारंभिक कॅरियर प्रशिक्षण कार्यक्रम के बाद यहां से छात्रों को अच्छी जगह से जॉब के ऑफर आते हैं। अब तक 2000 से अधिक छात्रों ने टेकबी कोर्स किया है और अब वे एससीएल के साथ काम कर रहे हैं।


यह होता है कोर्स
टेकबी कोर्स के तहत एचसीएल ये कोर्स करवाती है। फाउंडेशन प्रशिक्षण कार्यक्रम। इसके तहत तकनीकी बारे में जानकारी दी जाती है। प्रौद्योगिकी / डोमेन प्रशिक्षण के तहत विशिष्ट प्रशिक्षण दिया जाता है। इसमें यह सुनिश्चित किया जाता है कि तकनीकी से संबंधित सभी कार्य कर सकें। भूमिका विशिष्ट प्रशिक्षण में प्रोफेशनल अभ्यास अवधि के दौरान परियोजना का काम सौंपा जाता है।

12 महीनों का होता प्रशिक्षण
उम्मीदवार प्रशिक्षण के इन 12 महीनों के दौरान सूचना प्रौद्योगिकी, प्रासंगिक सॉफ्टवेयर टूल, प्रक्रियाओं और जीवन कौशल के मूल सिद्धांतों को सीखाया जाता है। प्रशिक्षण के सफलतापूर्वक पूरा होने पर उम्मीदवारों को एचसीएल टेक्नोलॉजीज में एप्लीकेशन और इंफ्रास्ट्रक्चर सपोर्ट, टेस्टिंग और सीएडी सपोर्ट के क्षेत्रों में प्रतिष्ठित परियोजनाओं में काम मिलता है।

मिल जाती है छूट
वित्तीय सहायता इस तरह से व्यवस्थित की जाती है कि माता-पिता या छात्रों पर कोई वित्तीय बोझ न पड़े। यहां पर 100 प्रतिशत कार्यक्रम शुल्क माफ हो जाता है। इसके लिए यदि छात्र को अपने प्रशिक्षण में 90 प्रतिशत से अधिक स्कोर करना पड़ता है। यदि प्रशिक्षण में 85-90 प्रतिशत के बीच स्कोर आता है तो 50 प्रतिशत शुल्क में छूट मिलती है।

ये कर सकते हैं आवेदन
छात्र और जिन्होंने 2019 और 2020 में मैथ्स के साथ बारहवीं कक्षा पूरी कर ली है, वे आवेदन करने के लिए पात्र हैं। छात्र HCL SAT प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करने के लिए आधिकारिक साइट पर जाकर पंजीकरण करें। पंजीकरण की अंतिम तिथि 30 जून 2020 है।