महिंद्रा के MD पवन गोयनका बोले- यह वक्त मेक इन इंडिया पर ध्यान देने का है..

|

Updated: 10 May 2020, 08:36 PM IST

महिंद्रा ग्रुप के एमडी पवन गोयनका ने बताया कि भारत ऑटो इंडस्ट्री के लिए एक बड़ा मार्केट है। आज हम 18 से 20 बिलियन डॉलर का इंपोर्ट ऑटो पार्ट्स में करते हैं। अगर मेक इन इंडिया को बढ़ा देते हैं तो इंपोर्ट जीरो तो नहीं होगी, लेकिन विदेशों पर निर्भरता कम होगी।

नई दिल्ली। लॉकडाउन पर महिंद्रा के एमडी और सीईओ ने दिया बड़ा बयान दिया कि कोविड के बाद जीवनशैली में बड़ा बदलाव दिखेगा। पहले जैसे बड़े कार्यक्रम नहीं होंगे। लेकिन धीरे- धीरे हालात सुधरने लगेंगे। दो से चार महीनों के बाद जिंदगी पटरी पर लौटनी शुरू हो जाएगी। मेक इन इंडिया के तहत सप्लाई जेंच में बदलाव जरूर दिखेगा। आज हम 18 से 20 बिलियन डॉलर का इंपोर्ट ऑटो पार्ट्स में करते हैं। अगर मेक इन इंडिया को बढ़ा देते हैं तो इंपोर्ट जीरो तो नहीं होगी, लेकिन विदेशों पर निर्भरता कम होगी।

हालांकि अभी इसमें कई तरह की खामियां हैं। दुनिया में भारत ऑटो इंडस्ट्री में पांचवें स्थान पर है। भारत ऑटो इंडस्ट्री के लिए एक बड़ा मार्केट है। इंपोर्ट कम करना और एक्सपोर्ट बढ़ाने पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। आज इंडिया में अच्छे सप्लायर्स हैं। पिछले 10 सालों में भारत में क्वालिटी में बड़ा बदलाव दिखा है।