पुराने दिनों को यादकर Nora Fatehi के निकले आंसू, बोलीं- जो मेरे साथ हुआ वो किसी और के साथ ना हो, पासपोर्ट भी चुरा लिया था

|

Published: 26 Feb 2021, 02:11 PM IST

  • पुराने दिनों को यादकर इमोशनल हुईं नोरा फतेही
  • माता-पिता के तलाक ने कर दिया था बेघर
  • ऑडिशन में उड़ाया जाता था मजाक
  • परेशान करने के लिए लड़कियों ने पासपोर्ट चुरा लिया था

नई दिल्ली | बॉलीवुड की डांसिंग क्वीन नोरा फतेही (Nora Fatehi) अपने डांस से लाखों लोगों का दिल जीत चुकी हैं। डांस के अलावा अब नोरा एक्टिंग में भी हाथ आज़मा रही हैं। नोरा के डांस मूव्स देखकर लोगों के होश उड़ जाते हैं। बेहद कम समय में नोरा ने बॉलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनाई है लेकिन एक वक्त ऐसा भी जब उनका मजाक उड़ाया जाया करता था। नोरा कनाडा से इंडिया अपना करियर बनाने आई थीं लेकिन उनका सामना कई बुरे लोगों से हुआ। नोरा ने हाल ही में एक इंटरव्यू में दौरान अपने करियर के सभी स्ट्रगल के बारे में खुलासा किया है। इस बारे में नोरा बात करते हुए बुरी तरह से टूट गई और रोती हुई नजर आईं।

लड़कियों ने मिलकर चुरा लिया था पासपोर्ट

नोरा फतेही (Nora Fatehi) इंटरव्यू देते हुए बेहद भावुक हो गईं और रोते हुए उन्होंने अपनी पिछली जिंदगी को याद किया। नोरा ने बताया कि उनके दिमाग में बॉलीवुड को लेकर जो धारणा बनी हुई थी वो इंडिया आने के बाद टूट गई। कास्टिंग डायरेक्टर उन्हें ऑडिशन में सिर्फ इसलिए बुलाया करते थे ताकि वो उनकी हिंदी का मजाक उड़ा सके। दुबई के फेमस यूट्यूबर अनस बुखाश को नोरा ने इंटरव्यू दिया है जिसे उन्होंने सोशल मीडिया पर खुद भी शेयर किया है। नोरा ने कहा कि इंडिया में मेरे साथ एक रूम में 9 लड़कियां रहां करती थीं। उन्होंने बड़े ही शातिर तरह से मेरा पासपोर्ट भी चुरा लिया और मुझे बहुत परेशान किया। ऑडिशन में इतने रिजेक्शन मिले, लोगों ने मेरा जमकर मजाक उड़ाया कि कई बार मन में आता था वापस चली जाऊं। जो मेरे साथ हुआ अगर वो किसी और के साथ होता तो पूरी तरह से टूट जाता और वापस चला जाता। मैंने हार नहीं मानी और किसी तरह यहां डंटी रही।

ऑडिशन के दौरान जमकर उड़ाया जाता था मजाक

नोरा फतेही (Nora Fatehi) ने आगे बताया कि लोग मेरे मुंह पर ही हंस दिया करते थे। मुझे बहुत बुरा लगता था कि कम से कम बाहर चली जाऊं तब ऐसा करते। मुझे जानकर हिंदी में कुछ कठिन सा दे देते थे। नोरा ने इस दौरान अपने मां-बाप के अलग होने का भी जिक्र किया। माता-पिता ने बहुत पहले ही एक दूसरे से तलाक ले लिया। उसके बाद नोरा की मां ने दूसरी शादी कर ली और वो बिल्कुल अकेली हो गईं। 14 साल की उम्र में नोरा को सऊदी अरब जाना पड़ा। उन्होंने बताया कि उनके माता-पिता का सपोर्ट उनसे बचपन में ही छिन गया था। जिस कारण उन्होंने इंडिया आकर कुछ करने का फैसला किया था।

मां-बाप का सपोर्ट ना मिलने से शादी करने से लगता है डर

नोरा ने इस बात का भी खुलासा किया कि उन्हें इस बात से सबसे ज्यादा डर लगता है कि अगर उनकी शादी के बाद भी ऐसा ही कुछ हुआ। उनका पार्टनर उन्हें छोड़कर चला गया तो बच्चों का क्या होगा। नोरा ने पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को बैलेंस में लेकर चलने की बात कही। उन्होंने कहा कि शादी करने और बच्चे होने के बाद कुछ चीजों में आपको बदलना पड़ता है तभी रिश्ता चल पाता है। आज नोरा अपनी जर्नी को लेकर बेहद ही खुश हैं। उन्होंने इंडिया को अपना दिल बताया और अरब देश को अपना अतीत।