स्ट्रेस बना देता है बच्चों को मैच्योर

|

Published: 08 Sep 2018, 05:42 AM IST

1/4

बचपन में होने वाले नकारात्मक अनुभवों जैसे बीमारी या माता-पिता के तलाक से होने वाले तनाव के कारण टीनेज में दिमाग के कुछ हिस्सों में तेजी से परिपक्वता आती है। एक नए अध्ययन में यह जानकारी सामने आई है। इस अध्ययन में पाया गया है कि इन अनुभवों के कारण प्रीफ्रंटल कोर्टेक्स और एमिगडला में तेजी से परिपक्वता आती है, जो कि किशोरावस्था में भावनाओं को नियंत्रित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।