चौराहों के इस शहर में कुछ चुनिंदा चौराहों पर हमेशा बैठे रहते है यमराज, जाने क्या है कारण

|

Published: 29 Dec 2017, 01:46 PM IST

1/4

जगदलपुर. शहर के मार्गों में कुछ एेसे अंधे मोड़ और चौक हैं जो हादसों का न्यौता दे रहे हैं, यहां न ही कोई मिरर लगा है और न ही सुरक्षा की दृष्टि से ट्रेफिक पुलिस तैनात हैं। इससे रोजाना लोगों को छोटी-बड़ी दुर्घाटनाओं से दो चार होना पड़ता है। ट्रेफिक पुलिस ने यहां स्टापर लगाकर छोड़ दिया है। इन अंधे मोड़ में कमिश्नर कार्यालय के सामने स्थित मोड़, आईजी बंगले के सामने स्थित चौक, पावर हाउस चौक, अग्रसेन चौक शामिल है। इन रास्तों में वाहन चालक बड़ी तेजी से चलाते हैं और कई बार दुर्घटनाओं का शिकार होते हैं।

कमिश्नर कार्यालय मोड़
कोर्ट से कमिश्नर कार्यालय आने वाले मार्ग में रोजाना दोपहिया चालक फिसल कर गिरते ही है। बाइक चालक तेजी से आकर मोड़ में फिसल जाते हैं, कई बार ट्रक यहां डिवाइडर और पेड़ों से भी टकरा चुके हैं, इसके बाद भी मोड़ के पास कोई सूचना या चेतावनी नहीं लिखी है।

पावर हाउस चौक
पावर हाउस चौक स्थित मोड़ भी खतरनाक है। गुरुवार को ही इस मोड़ पर एक कार ट्रेक्टर से जा टकराई, वाहन चालकों को कोई गंभीर चोट तो नहीं आई, लेकिन इस दुर्घटना से एक बार फिर से मोड़ को व्यवस्थित करने के लिए मजबूर कर दिया। स्थानीय व्यापारी पवन ने बताया कि यहां रोज दुर्घटना होती है, कोई न कोई बाइक चालक यहां गिरता रहता है।

अग्रसेन चौक
सुबह इन मार्गों में ट्रेफिक पुलिस तैनात रहती है, उस दौरान यहां परेशानी नहीं होती, रात के समय जब सिग्नल बंद हो जाते हैं, तब वाहन कहां से आ रही है, कोई समझ नहीं पाता। यहां कई बार रॉंग साइड से आने वाले वाहनों से टक्कर हो जाती है।

लालबाग चौक
आईजी बंगले के सामने स्थिल लालबाग चौक में आमागुड़ा चौक से आने वाले वाहन और सनसिटी की तरफ से आने वाले बाहन बड़ी तेजी से आते हैं, कई बार यहां बड़े हादसे होने से बच गए हैं। यहां भी ट्रेफिक पुलिस ने स्टॉपर लगा कर रखें हैं, जो औपचारिक है।