बाइक में पेट्रोल इंजन की जगह लोग लगवा रहे बैटरी, ऐसा करने से पहले जान लें ये जरूरी बात

|

Published: 01 Mar 2021, 09:07 PM IST

  • लोग अपनी बाइक से पेट्रोल का झंझट ही खत्म करने के लिए पेट्रोल इंजन को इलेक्ट्रिक इंजन में कंवर्ट कर रहे हैं
  • बाइक से पेट्रोल इंजन को हटा रहे हैं और उसकी जगह बैट्री लगवा रहे हैं
  • मोटर व्हीकल एक्ट 1988 के सेक्शन 52 के अनुसार, किसी भी मोटर व्हीकल में एटरनेशन करना कानूनी अपराध है

नई दिल्ली। देश में पेट्रोल डीजल की कीमत में लगातार बढ़ रही हैं। कई शहरों में पेट्रोल का दाम 100 रुपये लीटर को पार कर गया। ईधन के दाम बढ़ने से लोग काफी परेशान हो गए हैं। ऐसे में लोग इसके विकल्प तलाशने लगे हैं। कई लोग इलेक्ट्रिक वाहन खरीद रहे हैं।

बजाज ने लॉन्च की नए जमाने की Pulser 180 BS6, लुक्स और दम हैं झमाझम

वहीं कुछ जुगाड़ निकाल कर अपनी पुरानी गाड़ी को ही इलेक्ट्रिक में बदल दे रहे हैं। दरअसल, अब लोग अपनी बाइक से पेट्रोल का झंझट ही खत्म करने के लिए पेट्रोल इंजन को इलेक्ट्रिक इंजन में कंवर्ट कर रहे हैं। इसके लिए वो बाइक से पेट्रोल इंजन को हटा रहे हैं और उसकी जगह बैट्री लगवा रहे हैं।

10 हजार रुपये करने होंगे खर्च

अपनी पुरानी गाड़ी के पेट्रोल इंजन को इलेक्ट्रिक इंजन में कंवर्ट करा चुके लोगों का दावा किया है इसके लिए केवल 10 हजार रुपये खर्च करने होंगे। एक बार इलेक्ट्रिक इंजन लगने से बाद आप पेट्रोल की जगह चार्ज करके गाड़ी चला सकते हैं। स्पीड को लेकर कहा जा रही है कि बैटरी लगने के बाद बाइक की 65-70 किलोमीटर तक स्पीड आती है।

इस महीने Kabira Mobility लॉन्च करेगी 2 हाई-स्पीड इलेक्ट्रिक बाइक

एक मैकेनिक ने बताया गाड़ी में इलेक्ट्रिक मोटर लगवाने के लिए पेट्रोल इंजन और गियर बॉक्स को निकाल दिया जाता है ।इसके बाद बाइक को एक्सिलेटर की मदद से का कंट्रोल किया जा सकता है।

ये है कानूनी अपराध

बैट्री लगने के बाद गाड़ी में पेट्रोल डलवाने की जगह केवल चार्ज करना है।एक बार चार्ज करके 300 किलोमीटर तक चला सकते हैं। लेकिन ऐसा करना ऐसा करना गलत है। ये पूरा तरह से गैर कानूनी है। मोटर व्हीकल एक्ट 1988 के सेक्शन 52 के अनुसार, किसी भी मोटर व्हीकल में एटरनेशन करना कानूनी अपराध है।

Harley-Davidson का बड़ा फैसला, भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली दो बाइकें की बंद

इस नियम के तरह कोई भी व्यक्ति कंपनी की ओर बनाई गई कार या बाइक में कोई भी परिवर्तन नहीं कर सकता है। ऐसा करने पर भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है।इसके अलावा जेल भी हो सकती है।